नाईजीरिया में अपहृत पांच भारतीय नाविकों को कराया गया मुक्त: मनसुख मंडाविया

five-indian-sailors-abducted-in-nigeria-have-been-released-free-mansukh-mandviya
बयान के अनुसार नाईजीरिया के अबुजा में भारतीय उच्चायोग ने इस घटना की जानकारी नाईजीरियाई प्रशासन को दी । उसके बाद नाईजीरिया सेना पूरे घटनाक्रम की जांच में जुट गयी।

नयी दिल्ली। नाईजीरिया में एक जहाज से अगवा कर लिये गये पांच भारतीय नाविकों को दो महीने से अधिक समय तक बंधक रहने के बाद के बाद मुक्त करा लिया गया है। नौवहन राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। मंडाविया ने बताया कि 19 अप्रैल को एमटी एपेक्स जहाज के नाविकों को नाईजीरिया के बोनी द्वीप के समीप अगवा कर लिया था। उन्होंने एक बयान में कहा कि समुद्र में भारतीय चालक दल वाले व्यापारिक जहाजों को अगवा करने से उत्पन्न संभावित समुद्री सुरक्षा स्थिति से निपटने के लिए सरकार ने नौवहन मंत्रालय के अंतर्गत अधिकारियों का एक अंतमंत्रालयी समूह बनाया है।

बयान के अनुसार नाईजीरिया के अबुजा में भारतीय उच्चायोग ने इस घटना की जानकारी नाईजीरियाई प्रशासन को दी । उसके बाद नाईजीरिया सेना पूरे घटनाक्रम की जांच में जुट गयी। नाईजीरिया के रिजनल मैरीटाईम रिस्क एंड कोर्डिनेशन सेंटन ने भी इस मामले में सहयोग किया। 

इसे भी पढ़ें: नाइजीरिया में सैन्य अड्डे पर जिहादियों ने 5 सैनिकों की हत्या की

मंडाविया ने कहा कि मैं यह बताते हुए खुश हूं कि नौवहन मंत्रालय, नौवहन महानिदेशालय, अबुजा में भारतीय उच्चायोग समेत विभिन्न पक्षों के निरंतर प्रयास से अपहृत भारतीय नाविकों को सफलतापूर्वक मुक्त करा लिया गया और वे 27 जून को अधिकारियों की सुरक्षित हिरासत में पहुंच गये। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने नाईजीरियाई अधिकारियों, नौवहन मंत्रालय, अबुजा में भारतीय उच्चायोग और अन्य संबंधित पक्षों की इस कार्य के लिए प्रशंसा की है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़