भारत, श्रीलंका और मालदीव ने किया त्रिपक्षीय सैन्य अभ्यास

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2021   16:37
भारत, श्रीलंका और मालदीव ने किया त्रिपक्षीय सैन्य अभ्यास

प्रत्येक दो साल पर आयोजित होने वाला यह 15वां त्रिपक्षीय सैन्य अभ्यास था और इसे ‘दोस्ती’ नाम दिया गया है। इस अभियान को शुरू हुए 2021 में 30 साल हो गए।हालांकि, इसकी शुरुआत द्विपक्षीय रूप से हुई थी और इसमें सिर्फ भारत और मालदीव के तटरक्षक ही शामिल थे।

कोलंबो। हिंद महासागर में सुरक्षा, परस्पर अभियान क्षमता एवं आपसी सहयोग बढ़ाने के लिए भारत, श्रीलंका और मालदीव के तटरक्षकों का दो दिवसीय त्रिपक्षीय सैन्य अभ्यास रविवार को मालदीव में संपन्न हो गया। यहां भारतीय उच्चायोग ने यह जानकारी दी। प्रत्येक दो साल पर आयोजित होने वाला यह 15वां त्रिपक्षीय सैन्य अभ्यास था और इसे ‘दोस्ती’ नाम दिया गया है। इस अभियान को शुरू हुए 2021 में 30 साल हो गए।हालांकि, इसकी शुरुआत द्विपक्षीय रूप से हुई थी और इसमें सिर्फ भारत और मालदीव के तटरक्षक ही शामिल थे।

इसे भी पढ़ें: रावण था दुनिया का पहला पायलट! पुष्पक विमान पर रिसर्च फिर से शुरू करेगा श्रीलंका

श्रीलंका इससे 2012 में जुड़ा और यह त्रिपक्षीय अभ्यास हो गया। कोलंबो में भारतीय उच्चायोग ने एक बयान में कहा, ‘’ कोलंबो सुरक्षा सम्मेलन (सीएससी) के तत्वाधान में दो दिवसीय अभ्यास समुद्री सुरक्षा को मजबूत करने की दिशा में बेहद अहम है।’’ सीएससी केंद्रित अभियान का उद्देश्य मानक संचालन प्रक्रियाओं को सुव्यवस्थित करना और तीनों नौसेनाओं के बीच अंतर-संचालन को बढ़ाना है। बयान में बताया गया कि इस अभ्यास में भारतीय नौसेना का प्रतिनिधित्व आईएनएस सुभद्रा अपतटीय गश्त नौका, पी8आई लंबी दूर के समुद्री गश्त विमान ने किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।