कांगों में भारतीय महिला शांतिसैनिकों ने संभाला कार्यभार, पीड़ित महिलाओं-बच्चों की करेंगी मदद

indian-women-peace-activists-launch-campaign-for-un-peace-mission-in-congo
यह दल यहां चल रहे संघर्ष से सर्वाधिक पीड़ित महिलाओं और बच्चों की मदद करने आया है। भारत की ओर से आये महिला शांतिसैनिकों के दल में 20 महिला शांतिसैनिक हैं और इन्हें गत सप्ताह डीआर कांगो में संयुक्त राष्ट्र संगठन स्थिरता मिशन के तहत नियुक्त किया गया है।

संयुक्त राष्ट्र। शांति सैनिकों के लिए सबसे चुनौतीपूर्ण जगहों में शुमार अफ्रीकी देश कांगों में संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन के लिए भारत की तरफ से आये महिला शांतिसैनिकों के दल ने कार्यभार संभाल लिया है। यह दल यहां चल रहे संघर्ष से सर्वाधिक पीड़ित महिलाओं और बच्चों की मदद करने आया है। भारत की ओर से आये महिला शांतिसैनिकों के दल में 20 महिला शांतिसैनिक हैं और इन्हें गत सप्ताह डीआर कांगो में संयुक्त राष्ट्र संगठन स्थिरता मिशन के तहत नियुक्त किया गया है।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई प्रतिनिधि सैयद अकबरूद्दीन ने 20 जून को इसकी जानकारीसाझा करते ट्वीट किया और इन शांतिसैनिकों का छाया चित्र भी जारी किया। स्थायी मिशन के सैन्य सलाहाकार संरा कर्नल संदीप कपूर ने पीटीआई-भाषा को बताया कि यह तैनाती महासचिच एंतोनियो गुतारेस की पहल और प्राथमिकता के अनुरूप की गई है ताकि संयुक्त राष्ट्र में महिला शांतिसैनिकों की सहभागिता में इजाफा किया जा सके।

इसे भी पढ़ें: डीआर कांगो में नौका हादसे में 30 लोगों की मौत, दर्जनों लापता

कपूर ने बताया कि इस दल को डीआर कांगो के उत्तरी कीवू प्रांत में तैनात किया गया है। यह क्षेत्र प्राकृतिक संसाधनों से भरपूर है और इस पर कब्जे को लेकर करीब 38 सशस्त्र समूह संघर्षरत हैं। महिला शांतिसैनिकों का यह दल स्थानीय महिलाओं और बच्चों की मदद करेगा जो कि इस संघर्ष में सबसे अधिक प्रभावित हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़