फलस्तीनी लड़के की मौत की जांच कर रहा इजराइल, सैनिकों ने मारी थी गोली

Israel investigating death of Palestinian boy shot by troops
सेना ने कहा कि उसने कार को रोकने की कोशिश की थी लेकिन जब वह नहीं रुकी तो उन्होंने वाहन पर गोली चलाई जो लड़के मोहम्मद अल अलामी के सीने में लग गई। फलस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने लड़के की मौत की पुष्टि की है।

यरूशलम। इजराइली सेना ने कहा है कि उसने 12 वर्षीय फलस्तीनी लड़के को गोली लगने के मामले की जांच शुरू कर दी है। दक्षिणी वेस्ट बैंक के निवासियों का कहना है कि लड़का अपने पिता के साथ कार में सवार होकर जा रहा था जब सेना की गोलीबारी में उसकी मौत हुई। एक बयान में, सेना ने कहा कि सैनिकों के संदिग्ध कदाचार की जांच करने वाले वरिष्ठ कमांडिंग ऑफिसर और सैन्य पुलिस बुधवार को हुई इस घटना के बारे में पता लगा रहे हैं। यह घटना हेबरोन शहर के पास बेत उमर कस्बे में हुई। सेना ने कहा कि सैनिकों ने एक कार पर गोली चलाई जो कई बार चेतावनी देने के बावजूद जांच चौकी पर नहीं रुकी थी।

इसे भी पढ़ें: बढ़ते तनाव के बीच अमेरिका पहुंचे चीन के नए राजदूत छिन गांग, क्या संबंध सुधरेंगे?

बेत उमर के मेयर नासरी सबरनेह ने कहा कि गांव का निवासी मोयाद अल अलामी अपने बेटे और बेटी के साथ कार से जा रहा था जब उसने एक दुकान पर रुकने के लिए गाड़ी मोड़ी। सेना ने कहा कि उसने कार को रोकने की कोशिश की थी लेकिन जब वह नहीं रुकी तो उन्होंने वाहन पर गोली चलाई जो लड़के मोहम्मद अल अलामी के सीने में लग गई। फलस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय ने लड़के की मौत की पुष्टि की है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़