• अमेरिका: कोरोना वैक्सीन लगाने से इनकार करने वाले 150 से अधिक कर्मचारियों को नौकरी से निकाला

‘ह्यूस्टन मेथोडिस्ट’ अस्पताल के एक प्रवक्ता ने बताया कि 153 कर्मचारियों ने दो सप्ताह की निलंबन अवधि में या तो इस्तीफा दे दिया या मंगलवार को उन्हें निकाल दिया गया। कोरोनो वायरस के खिलाफ मरीजों और अन्य लोगों की सुरक्षा के लिए स्वास्थ्य देखभाल संस्थान क्याकर सकते हैं, इस संदर्भ में मामले को करीब से देखा गया है।

डलास (अमेरिका)। अमेरिका में ह्यूस्टन के एक अस्पताल में कोविड-19 रोधी टीके लगवाने से इनकार करने वाले 150 से अधिक कर्मचारियों को या तो प्रशासन ने निकाल दिया या उन्होंने इस्तीफा दे दिया है। एक न्यायाधीश ने टीके की आवश्यकता पर कर्मचारी की ओर से दायर मुकदमे को खारिज कर दिया था, जिसके बाद ये कदम उठाए गए। ‘ह्यूस्टन मेथोडिस्ट’ अस्पताल के एक प्रवक्ता ने बताया कि 153 कर्मचारियों ने दो सप्ताह की निलंबन अवधि में या तो इस्तीफा दे दिया या मंगलवार को उन्हें निकाल दिया गया। कोरोनो वायरस के खिलाफ मरीजों और अन्य लोगों की सुरक्षा के लिए स्वास्थ्य देखभाल संस्थान क्याकर सकते हैं, इस संदर्भ में मामले को करीब से देखा गया है।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका में क्लाउडेट तूफान का कहर, वैन में सवार 8 बच्चों समेत 13 लोगों की मौत

ऐसा माना जा रहा है कि अमेरिका में इस तरह का यह पहला मामला है, लेकिन इस पर चर्चा अभी समाप्त नहीं हुई है। इस महीने की शुरुआत में, एक संघीय न्यायाधीश ने टीकाकरण की आवश्यकता को लेकर 117 कर्मचारियों की ओर से दायर मुकदमे को खारिज कर दिया था। अमेरिकी जिला न्यायाधीश लिन ह्यूजेस ने 12 जून को मुकदमा खारिज करते हुए कहा था कि मुकदमे में टीके के प्रयोगात्मक तथा खतरनाक होने के दावे गलत हैं। अगर उसके कर्मचारियों को यह मंजूर नहीं है तो वे कहीं और काम कर सकते हैं। अमेरिका में सबसे पहले ह्यूस्टन अस्पातल प्रणाली ने ही अप्रैल में कर्मचारियों को टीका लगवाने का निर्णय किया था।