पाकिस्तान ने संघर्ष विराम उल्लंघन को लेकर भारतीय राजनयिक को किया तलब

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 27, 2019   17:19
पाकिस्तान ने संघर्ष विराम उल्लंघन को लेकर भारतीय राजनयिक को किया तलब

अहलुवालिया को तलब किया तथा नियंत्रण रेखा पर भारतीय सुरक्षाबलों द्वारा बिना किसी उकसावे के कथित रूप से किये गये संघर्ष विराम उल्लंघन की निंदा की।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने बुधवार को भारत के कार्यवाहक उच्चायुक्त गौरव अहलुवालिया को तलब किया और नियंत्रण रेखा पर भारतीय सुरक्षाबलों द्वारा बिना किसी उकसावे के कथित रूप से किये गये संघर्ष विराम उल्लंघन की निंदा की। पाकिस्तान के अनुसार संघर्षविराम उल्लंघन में चार नागरिकों की मौत हो गयी।

इसे भी पढ़ें: भारत के सामने पाकिस्तान की परमाणु ब्लैकमेल की धमकी बेअसर साबित हुई

विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा कि उसके महानिदेशक (दक्षिण एशिया और दक्षेस) और प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने अहलुवालिया को तलब किया तथा नियंत्रण रेखा पर भारतीय सुरक्षाबलों द्वारा बिना किसी उकसावे के कथित रूप से किये गये संघर्ष विराम उल्लंघन की निंदा की। विदेश मंत्रालय ने कहा कि निकिअल और खुइरट्टा सेक्टरों में 26 फरवरी की गोलीबारी में तीन महिलाओं समेत चार नागरिकों की जान चली गयी। गोलीबारी में छह अन्य घायल भी हो गये।

इसमें कहा गया कि नियंत्रण रेखा और कार्यकारी सीमा से लगे इलाकों में भारतीय बलों द्वारा “भारी हथियारों से लगातार नागरिक इलाकों को निशाना बनाया गया”। उसने आरोप लगाया, ‘‘भारत द्वारा संघर्षविराम उल्लंघन में अप्रत्याशित वृद्धि 2017 से ही जारी है जब भारतीय सुरक्षाबलों ने 1970 संघर्षविराम उल्लंघन किये। बयान में कहा गया है, ‘‘नागरिक इलाकों को जान-बूझकर निशाना बनाया जाना वाकई निंदनीय और मानवीय मर्यादा, अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकारों और मानवीय कानूनों के विपरीत है। भारत द्वारा संघर्षविराम उल्लंघन क्षेत्रीय शांति एवं सुरक्षा के लिए खतरा है और इससे सामरिक स्थिति बिगड़ सकती है।

इसे भी पढ़ें: इमरान खान का कहना, बातचीत से मसले सुलझाए जा सकते है





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।