सीपीईसी मुद्दे पर अमेरिका के बयान को पाकिस्तान ने किया खारिज

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 25, 2019   15:09
सीपीईसी मुद्दे पर अमेरिका के बयान को पाकिस्तान ने किया खारिज

कुरैशी के साथ सूचना एवं प्रसारण पर प्रधानमंत्री के विशेष सहायक डॉ. फिरदौस आशिक अवान और योजना एवं विकास मंत्री असद उमर ने भी अमेरिकी चिंता को खारिज किया है।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने रविवार को कहा कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) पर अमेरिकी रुख से अरबों डॉलर की यह परियोजना प्रभावित नहीं होगी। उनका यह बयान अमेरिकी चेतावनी के कुछ दिन बाद आया है जिसमें उसने कहा था कि सीपीईसी से पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को नुकसान होगा।

इसे भी पढ़ें: अमेरिकी रक्षा मंत्री ने सील विवाद को लेकर नौसेना सचिव को निकाला

सीपीईसी परियोजना के तहत चीन के संसाधन संपन्न शिनजियांग उइगर स्वायत्त क्षेत्र को पाकिस्तान के ग्वादर बंदरगाह से जोड़ने के लिए सड़क, रेलवे और ऊर्जा संयंत्रों की स्थापना की जा रही है। 2015 में चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने इस्लामाबाद दौरे के दौरान सीपीईसी योजना शुरु की थी। इसके तहत चीन, पाकिस्तान में 60 अरब डॉलर का निवेश कर रहा है। 

इसे भी पढ़ें: जेल में बंद जूलयिन असांजे की हालत नाजूक, 60 से ज्यादा डॉक्टरों ने ब्रिटेन सरकार को लिखा पत्र

मुल्तान में मीडिया से बातचीत करते हुए कुरैशी ने अमेरिकी चिंता को खारिज करते हुए कहा कि यह परियोजना जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान उनके (अमेरिका) रुख से सहमत नहीं है। हम उनके रुख को खारिज करते हैं। हम नहीं मानते कि सीपीईसी के बोझ से हमारा वित्तीय घाटा बढ़ेगा। कुरैशी ने कहा कि सीपीईसी से पाकिस्तान पर कर्ज का बोझ नहीं बढ़ेगा क्योंकि पाकिस्तान के कुल 74 अरब डॉलर के कर्ज में इस परियोजना की हिस्सेदारी मात्र 4.9 अरब डॉलर है। कुरैशी के साथ सूचना एवं प्रसारण पर प्रधानमंत्री के विशेष सहायक डॉ. फिरदौस आशिक अवान और योजना एवं विकास मंत्री असद उमर ने भी अमेरिकी चिंता को खारिज किया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।