न्यूयॉर्क में खालिस्तान समर्थक समूह के खिलाफ प्रदर्शन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 27, 2020   17:27
न्यूयॉर्क में खालिस्तान समर्थक समूह के खिलाफ प्रदर्शन

एसएफजे ने सार्वजनिक तौर पर संविधान की प्रति नहीं जलाई, जैसा कि उसने पहले ऐलान किया था। एसएफजे कार्यालय के बाहर प्रदर्शन बुलाने वाले माही ने कहा, “ उन्होंने हमें संविधान जलाने का वीडियो भेजा है।”

वाशिंगटन। कवि-संत गुरु रविदास के अनुयायियों ने कथित रुप से भारतीय संविधान जलाने और पंजाब में जनमत संग्रह की मांग के खिलाफ अमेरिका के न्यूयॉर्क में खालिस्तान समर्थक समूह के दफ्तर के बाहर रविवार को प्रदर्शन किया। न्यूयॉर्क में गुरु रविदास मंदिर के अध्यक्ष अशोक कुमार माही ने बताया कि खालिस्तान समर्थक सिख्स फॉर जस्टिस (एसएफजे) ने भारतीय संविधान की प्रति फाड़ी थी और जलाई थी।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका में CAA के खिलाफ प्रदर्शन से फीका पड़ा गणतंत्र दिवस का जश्न

एसएफजे ने सार्वजनिक तौर पर संविधान की प्रति नहीं जलाई, जैसा कि उसने पहले ऐलान किया था। एसएफजे कार्यालय के बाहर प्रदर्शन बुलाने वाले माही ने कहा, “ उन्होंने हमें संविधान जलाने का वीडियो भेजा है।” प्रदर्शनकारियों ने एसएफजे के खिलाफ नारे लगाए और उसके नेता गुरपतवंत सिंह पन्नू का पुतला जलाया। 

इसे भी पढ़ें: सीनेट ने डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग सुनवाई के लिए नियम तय किए

माही ने कहा कि संविधान जला कर गुरु रविदास गुरूद्वारे के सदस्यों का अपमान किया गया है, जिनकी संख्या 2500 है। माही ने पीटीआई-भाषा से कहा, “ हमारा विरोध उनके विरूद्ध पवित्र संविधान को जलाने के खिलाफ है। उन्होंने यह वीडियो भेजकर हमें उकसाया है।” एसएफजे को पहले ही भारत में प्रतिबंधित कर दिया गया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।