मानवाधिकारों का सम्मान हो, श्रीलंका के लोगों की आकांक्षाओं को सुना जाए : अमेरिकी राजदूत

Human Rights
Creative Common Licences.
अमेरिकी राजदूत ने ट्वीट कर कहा, ‘‘राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे के साथ आज राष्ट्रपति कार्यालय में मुलाकात की। उन्होंने ऐसे समय में पदभार ग्रहण किया है जब श्रीलंका एक ‘चौराहे’ पर खड़ा है।

कोलंबो|  अमेरिकी राजदूत जूली चुंग ने बुधवार को नवनिर्वाचित राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे से मुलाकात की और उनसे कहा कि श्रीलंका की नयी सरकार को सुशासन को अपनाना चाहिए, मानवाधिकारों का सम्मान करना चाहिए और अपने लोगों की आकांक्षाओं को सुनना चाहिए।

सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों के खिलाफ विक्रमसिंघे की हालिया कार्रवाई की आलोचना करने वाली चुंग ने विक्रमसिंघे से राष्ट्रपति कार्यालय में मुलाकात की।

अमेरिकी राजदूत ने ट्वीट कर कहा, ‘‘राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे के साथ आज राष्ट्रपति कार्यालय में मुलाकात की। उन्होंने ऐसे समय में पदभार ग्रहण किया है जब श्रीलंका एक ‘चौराहे’ पर खड़ा है।

हमने चर्चा की कि यह (श्रीलंका) आर्थिक और राजनीतिक संकट के इस बिंदु पर कैसे पहुंचा और हम सभी लोगों के लिए उज्जवल भविष्य सुनिश्चित करने के वास्ते किस तरह मिलकर काम कर सकते हैं।’’ चुंग ने कहा कि दोनों देश और उनके लोग 70 से अधिक वर्षों से मित्र और भागीदार रहे हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़