अमेरिका के शीर्ष एडमिरल ने हैलीफैक्स फोरम में चीन के खतरे से आगाह किया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 21, 2021   13:54
अमेरिका के शीर्ष एडमिरल ने हैलीफैक्स फोरम में चीन के खतरे से आगाह किया

अमेरिकी हिंद-प्रशांत कमान के प्रमुख ने शनिवार को कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगी देशों को चीन की बढ़ती सैन्य कार्रवाइयों के बीच तत्काल मिलकर काम करने की जरूरत है।

हैलीफैक्स (कनाडा)। अमेरिकी हिंद-प्रशांत कमान के प्रमुख ने शनिवार को कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगी देशों को चीन की बढ़ती सैन्य कार्रवाइयों के बीच तत्काल मिलकर काम करने की जरूरत है। एडमिरल जॉन सी एक्विलिनो ने हैलीफैक्स इंटरनेशनल सुरक्षा फोरम में सहयोगियों के साथ बैठकों के दौरान एक स्वतंत्र तथा खुले हिंद-प्रशांत क्षेत्र को हासिल करने की अमेरिका की प्रतिबद्धता दोहराई। उन्होंने पत्रकारों के साथ बैठक में कहा, ‘‘देखिए चीन वालों ने क्या कहा। राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने अपने बलों को 2027 तक अमेरिका के सैन्य समानता के स्तर तक पहुंचने का काम सौंपा है। ये उनके शब्द हैं।’’

इसे भी पढ़ें: सपा का सरकार की नीयत पर सवाल कहा 'साफ नहीं इनका दिल, चुनाव बाद फिर लाएंगे बिल'

एक्विलिनो ने कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगियों को अंतर-सक्रियता के लिए अंतरराष्ट्रीय जलक्षेत्र में मिलकर और अधिक काम करना होगा ताकि वे जरूरत पड़ने पर मिलकर अभियान चला सकें। चीन की सेना ने स्वशासित ताइवान द्वीप के पास बड़ी संख्या में लड़ाकू विमान भेजे हैं जिससे तनाव गहरा गया है। ताइवान को चीन अपना हिस्सा मानता है। चीन ने जरूरत पड़ने पर बलों के इस्तेमाल की चेतावनी दी है। इस सप्ताह चीन के तटरक्षक जहाजों ने फिलीपीन की दो नौकाओं को भी रोक लिया था। ये नौकाएं विवादित दक्षिण चीन सागर के एक टापू पर आपूर्ति पहुंचा रही थीं। चीन एक तरह से पूरे दक्षिण चीन सागर पर दावा करता है और उसने सात टापुओं को मिसाइलों से संरक्षित द्वीप आधार बना लिया है ताकि उसका प्रभुत्व और बढ़ सके।

इसे भी पढ़ें: आंध्र प्रदेश में बाढ़ का कहर, रेल और सड़क मार्गों से संपर्क टूटा

इससे तनाव बढ़ गया है और अमेरिका के नेतृत्व वाली पश्चिमी देशों की सरकारें चौकन्नी हो गयी हैं। एक्विलिनो ने कहा, ‘‘हम अपने मूल्यों के लिए लड़ रहे हैं। स्वतंत्र और खुले या बंद और अधिपत्य वाले क्षेत्र में अंतर है। आप किस हिंद-प्रशांत क्षेत्र का हिस्सा बनना चाहेंगे? समान विचार वाले देशों के लिए यह स्पष्ट है।’’ एक्विलिनो ने कनाडा के रक्षा मंत्री और उनके सेना प्रमुख से शुक्रवार को मुलाकात की थी। हैलीफैक्स अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा फोरम का यह 13वां वर्ष है जिसमें पश्चिमी देशों के रक्षा और सुरक्षा अधिकारी भाग ले रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...