जानिए ट्रंप के Green Card पर रोक लगाने से किन लोगों पर पड़ेगा इसका असर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 25, 2020   15:25
जानिए ट्रंप के Green Card पर रोक लगाने से किन लोगों पर पड़ेगा इसका असर

रिपोर्ट में कहा गया है कि मिलर ने संकेत दिया कि यह रणनीति दीर्घकालीन दूरदृष्टि का हिस्सा है। इसमें यह भी कहा गया है कि ट्रंप प्रशासन लंबे समय से परिवार आधारित अमेरिकी आव्रजक मॉडल को हटाने की कोशिश कर रहा है। इसके तहत ग्रीन कार्ड धारक अपने माता-पिता, किशोर बच्चों और भाई-बहनों को अमेरिका में ला सकते हैं।

 न्यूयॉर्क। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आव्रजन एजेंडे को बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले स्टीफन मिलर ने कहा कि ट्रंप के ग्रीन कार्ड जारी करने पर अस्थायी रोक लगाने वाले सरकारी आदेश का मकसद नए आव्रजक श्रमिकों को ‘‘रोकना’’ है और यह देश में विदेशियों का प्रवाह कम करने की व्यापक रणनीति की शुरुआत है। ट्रंप ने कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण नौकरियों गंवाने वाले अमेरिकियों के रोजगार की रक्षा करने के लिए देश में आव्रजन की प्रक्रिया पर 60 दिनों की रोक लगाने वाले सरकारी आदेश पर बुधवार को हस्ताक्षर किए।

इसे भी पढ़ें: जानें कौन है सीमा नंदा, जो डेमोक्रेटिक पार्टी की CEO के पद से देने जा रहीं हैं इस्तीफा

‘द वाशिंगटन पोस्ट’ में एक रिपोर्ट के अनुसार मिलर ने इस आदेश पर बृहस्पतिवार को ट्रंप के प्रतिनिधियों के एक समूह से ‘ऑफ-द-रिकॉर्ड’ बात की और उन्हें बताया कि आव्रजन प्रक्रिया पर रोक लगाने वाला राष्ट्रपति का नया आदेश अमेरिका में आव्रजन प्रक्रिया में वृहद दीर्घकालीन बदलाव लाएगा। अमेरिकी दैनिक अखबार को हाथ लगी रिकॉर्डिंग के अनुसार मिलर ने कहा, ‘‘पहली और सबसे महत्वपूर्ण चीज नए आव्रजक श्रमिकों को रोकना है और इस सरकारी आदेश पर हस्ताक्षर के साथ यह उद्देश्य पूरा हुआ।’’

इसे भी पढ़ें: दुनियाभर में कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों की एक चौथाई संख्या अमेरिका में

रिपोर्ट में कहा गया है कि मिलर ने संकेत दिया कि यह रणनीति दीर्घकालीन दूरदृष्टि का हिस्सा है। इसमें यह भी कहा गया है कि ट्रंप प्रशासन लंबे समय से परिवार आधारित अमेरिकी आव्रजक मॉडल को हटाने की कोशिश कर रहा है। इसके तहत ग्रीन कार्ड धारक अपने माता-पिता, किशोर बच्चों और भाई-बहनों को अमेरिका में ला सकते हैं। पिछले साल विदेश विभाग ने करीब 4,60,000 आव्रजक वीजा जारी किए थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।