यूक्रेन ने रूस के साथ बातचीत से किया इनकार ! पुतिन के प्रेस सचिव ने दी यह जानकारी

यूक्रेन ने रूस के साथ बातचीत से किया इनकार ! पुतिन के प्रेस सचिव ने दी यह जानकारी
प्रतिरूप फोटो

प्रेस सचिव दिमित्री पेसकोव ने बताया कि राष्ट्रपति पुतिन ने कीव के साथ वार्ता की उम्मीद के संबंध में शुक्रवार दोपहर यूक्रेन में रूसी सैन्य अभियान को अस्थायी रूप से रोकने का आदेश दिया था लेकिन यूक्रेनी नेतृत्व द्वारा बात करने से इनकार करने के बाद शनिवार दोपहर ऑपरेशन फिर से शुरू कर दिया गया।

मॉस्को। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध जारी है। इसी बीच यूक्रेन ने रूस के साथ बातचीत से इनकार कर दिया है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रेस सचिव दिमित्री पेसकोव ने शनिवार को बताया कि यूक्रेन ने बातचीत करने से इनकार कर दिया है। दरअसल, विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने शुक्रवार को बताया था कि राष्ट्रपति पुतिन के आह्वान पर यूक्रेन की सेना के सकारात्मक प्रतिक्रिया देने, प्रतिरोध खत्म करने और हथियार डालने के बाद मास्को यूक्रेन के साथ किसी भी क्षण बातचीत करने के लिए तैयार है। 

इसे भी पढ़ें: यूक्रेन में डर रहा था MBBS का छात्र, वतन वापसी पर जताई खुशी, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने किया स्वागत 

फिर शुरू हुआ सैन्य अभियान

स्पुतनिक न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रेस सचिव दिमित्री पेसकोव ने बताया कि राष्ट्रपति पुतिन ने कीव के साथ वार्ता की उम्मीद के संबंध में शुक्रवार दोपहर यूक्रेन में रूसी सैन्य अभियान को अस्थायी रूप से रोकने का आदेश दिया था लेकिन यूक्रेनी नेतृत्व द्वारा बात करने से इनकार करने के बाद शनिवार दोपहर ऑपरेशन फिर से शुरू कर दिया गया।

दिमित्री पेसकोव ने बताया कि यूक्रेन ने अनिवार्य रूप से बातचीत करने से इनकार कर दिया, जिसके बाद रूसी सेना ने ऑपरेशन को फिर से शुरू कर दिया है। उन्होंने बताया कि कई क्षेत्रों में संघर्ष जारी है। हालांकि यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की के कार्यालय प्रमुख मिखाइल पोडोलीक ने बातचीत से इनकार की खबरों को निराधार बताया। उन्होंने कहा कि यह असत्य है कि यूक्रेन ने रूस के साथ बातचीत से इनकार कर दिया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि रूस ने अस्वीकार्य शर्तें और अल्टीमेटम मांगें रखी हैं। 

इसे भी पढ़ें: मातृभूमि में आपका स्वागत है ! रोमानिया से मुंबई पहुंचा एयर इंडिया का विमान, 219 भारतीयों की हुई सुरक्षित वापसी 

बातचीत के लिए राजी हुआ था रूस

रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने बताया था कि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के आह्वान पर यूक्रेन की सेना के सकारात्मक प्रतिक्रिया देने, प्रतिरोध खत्म करने और हथियार डालने के बाद मास्को यूक्रेन के साथ किसी भी क्षण बातचीत करने के लिए तैयार है। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि रूस के सैन्य अभियान का उद्देश्य यूक्रेन का विसैन्यीकरण और नाजी विचारधारा से मुक्त कराना है और कोई भी उस पर कब्जा नहीं करने वाला है।