अमेरिका की प्रतिनिधि सभा ने रक्षा विधेयक के खिलाफ ट्रंप के वीटो को किया निरस्त

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 29, 2020   10:13
अमेरिका की प्रतिनिधि सभा ने रक्षा विधेयक के खिलाफ ट्रंप के वीटो को किया निरस्त

रक्षा विधेयक ‘नेशनल डिफेंस ऑथोराइजेशन एक्ट’ (एनडीएए) में अमेरिकी सुरक्षा बलों के वेतन में तीन प्रतिशत की वृद्धि और सैन्य कार्यक्रमों एवं निर्माण में 740 अरब डॉलर से अधिक के खर्च का प्रावधान किया गया है।

वाशिंगटन।अमेरिका में डेमोक्रेटिक पार्टी के दबदबे वाली प्रतिनिधि सभा ने रक्षा नीति विधेयक के खिलाफ राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के वीटो को निरस्त करने के लिए मतदान किया है। प्रतिनिधि सभा के सदस्यों ने 82 के मुकाबले 322 मतों से राष्ट्रपति के वीटो को निष्प्रभावी किया। अगर इस विधेयक को सीनेट में दो तिहाई बहुमत मिल जाता है तो यह ट्रंप के राष्ट्रपति रहते हुए निरस्त होने वाला पहला विधेयक होगा। ट्रंप ने पिछले सप्ताह यह कहकर रक्षा विधेयक को खारिज किया था कि यह सोशल मीडिया कंपनियों पर लगाम लगाने में नाकाम है। रक्षा विधेयक ‘नेशनल डिफेंस ऑथोराइजेशन एक्ट’ (एनडीएए) में अमेरिकी सुरक्षा बलों के वेतन में तीन प्रतिशत की वृद्धि और सैन्य कार्यक्रमों एवं निर्माण में 740 अरब डॉलर से अधिक के खर्च का प्रावधान किया गया है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना के नए प्रकार से अमेरिका कितना सुरक्षित? जानिए संक्रामक विशेषज्ञ एंथनी फाउची की राय

ट्रंप के वीटो इस्तेमाल की प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी ने आलोचना करते हुए कहा, ‘‘इससे हमारे सैनिकों को नुकसान और हमारी सुरक्षा को खतरा पहुंचेगा।’’ सीनेट की सशस्त्र सेवा समिति के अध्यक्ष जिम इनहॉफ ने कहा कि यह विधेयक देश की राष्ट्रीय सुरक्षा और सैनिकों के लिए निश्चित रूप से अहम है। सीनेट की सशस्त्र सेवा समिति के सदस्य एवं डेमोक्रेटिक नेता जैक रीड ने ट्रंप के उस दावे को भी खारिज किया कि इस विधेयक से चीन को फायदा मिलेगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...