अमेरिकी सांसद ने पाकिस्तान पर भारत के रुख का समर्थन किया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 27, 2019   11:21
अमेरिकी सांसद ने पाकिस्तान पर भारत के रुख का समर्थन किया

इस घटना के बाद भारत ने नियंत्रण रेखा से करीब 80 किलोमीटर दूर पाकिस्तान के अशांत प्रांत खैबर पख्तूनख्वा के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षण केंद्र पर मंगलवार सुबह बम गिराए एवं उसे तबाह कर दिया।

वॉशिंगटन। अमेरिका के एक प्रभावशाली सांसद ने पुलवामा हमले में शहीद हुए 40 से अधिक सुरक्षाकर्मियों की शहादत पर शोक प्रकट किया और इसे लेकर पाकिस्तान को कूटनीतिक दृष्टि से अलग-थलग करने के भारत के रुख का समर्थन किया है। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी को हुए जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सी‍आरपीएफ) के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस घटना से पूरे देश में आक्रोश था।

इसे भी पढ़ें: खशोगी की हत्या के 100 दिन गुजरने पर अमेरिकी सांसदों ने शोक कार्यक्रम आयोजित किया

इस घटना के बाद भारत ने नियंत्रण रेखा से करीब 80 किलोमीटर दूर पाकिस्तान के अशांत प्रांत खैबर पख्तूनख्वा के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षण केंद्र पर मंगलवार सुबह बम गिराए एवं उसे तबाह कर दिया। इस जवाबी कार्रवाई में ‘‘बड़ी संख्या में” आंतकवादी, प्रशिक्षक एवं शीर्ष कमांडर मारे गए।

रिपब्लिकन सांसद रिकी पेरी ने अमेरिकी हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव्स में कहा, “इस आतंकवादी कृत्य के मृतकों की शहादत पर हम शोक प्रकट करते हैं और पाकिस्तान समेत किसी भी अन्य राष्ट्र के खिलाफ कार्रवाई जारी रखने का आह्वान करते हैं जो आतंकवाद एवं हिंसक चरमपंथ को बढ़ावा देता है।” उन्होंने कहा, “भारत ने पाकिस्तान को कूटनीतिक ढंग से अलग-थलग करने और व्यापार के लिहाज से सबसे तरजीही देश का दर्जा रद्द करने की योजना का ऐलान कर दिया है।

>





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।