• नेशनल स्पेलिंग बी प्रतियोगिता की विजेता बनी 14 साल की पहली अफ्रीकी-अमेरिकी

लुइसियाना की 14 वर्षीय जैला एवांट गार्डे प्रतिष्ठित स्पेलिंग बी प्रतियोगिता जीतने वाली पहली अफ्रीकी-अमेरिकी बन गई है।येल का 20 वर्षीय छात्र कोल 2015 में इस प्रतियोगिता का उपविजेता रहा। इससे पहले स्क्रिप्स नेशनल स्पेलिंग बी के फाइनल में पहुंचने वाले सभी प्रतिभागियों को प्रथम महिला जिल बाइडन से मुलाकात करने का अवसर मिला।

लेक ब्यूना विस्टा (अमेरिका)। लुइसियाना की 14 वर्षीय जैला एवांट गार्डे अमेरिका की प्रतिष्ठित स्पेलिंग बी प्रतियोगिता जीतने वाली पहली अफ्रीकी अमेरिकी बन गयी हैं और इस प्रतियोगिता के 96 वर्षों के इतिहास में वह दूसरी अश्वेत विजेता है। जैला ने स्पेलिंग को अपने खाली वक्त का शौक बताया। हालांकि वह इसके लिए हर दिन सात घंटे अभ्यास करती हैं। जैला की बास्केटबॉल में रूचि है और उन्हें एक दिन ‘डब्ल्यूएनबीए’ के लिए खेलने की उम्मीद है और उनके नाम एक साथ कई गेंदों को ड्रिब्लिंग करने का गिनीज विश्व रिकॉर्ड भी है। जैला ने ‘‘मुरैया’’ शब्द की स्पेलिंग बताने के बाद बृहस्पतिवार रात को यह खिताब अपने नाम किया, जिसका मतलब है उष्णकटिबंधीय एशियाई और ऑस्ट्रेलियाई पेड़ों की एक प्रजाति। टेक्सास के फ्रिस्को की 12 वर्षीय चैत्रा थुम्मला उपविजेता रही। जैला और चैत्रा दोनों ने कोल शाफर रे से प्रशिक्षण लिया था।

इसे भी पढ़ें: बाइडन की घोषणा, अफगानिस्तान में अमेरिका का सैन्य अभियान 31 अगस्त को समाप्त होगा

येल का 20 वर्षीय छात्र कोल 2015 में इस प्रतियोगिता का उपविजेता रहा। इससे पहले स्क्रिप्स नेशनल स्पेलिंग बी के फाइनल में पहुंचने वाले सभी प्रतिभागियों को प्रथम महिला जिल बाइडन से मुलाकात करने का अवसर मिला। जिल ने प्रतिभागियों तथा उनके परिवारों से बृहस्पतिवार शाम को मुलाकात की। उन्होंने कहा, ‘‘मैं आपको यह बताने के लिए व्यक्तिगत तौर पर यहां मौजूद रहना चाहती हूं कि राष्ट्रपति और मुझे आप सभी पर बहुत गर्व है।’’ प्रथम महिला ने कहा, ‘‘छठी कक्षा में मैं अपनी स्कूल की स्पेलिंग बी चैम्पियन थी। मुझे अगले चरण में जाने का मौका मिला था लेकिन क्षेत्रीय प्रतियोगिता वाले दिन मैंने अपनी मां से कहा कि मैं बीमार हूं। असलियत यह थी कि मैं बहुत ज्यादा घबरायी हुई थी इसलिए मैं आप सभी की काफी तारीफ करती हूं।