रात में नहीं आती है नींद तो आजमाएं वास्तु के ये सरल उपाय, सो पाएँगे चैन की नींद

रात में नहीं आती है नींद तो आजमाएं वास्तु के ये सरल उपाय, सो पाएँगे चैन की नींद

नींद पूरी ना होने के कारण शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव होता है। कई बार नींद ना आने कारण तनाव नहीं बल्कि वास्तु दोष भी हो सकता है। वास्तुशास्त्र में अच्छी नींद के लिए भी कई उपाय बताए गए हैं। इन नियमों का पालन करने से नींद में आ रही बाधा खत्म होती है।

आजकल तनाव का स्तर इतना ज़्यादा बढ़ गया है कि अच्छी नींद आना भी सौभाग्य की बात हो गई है। नींद पूरी ना होने के कारण शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव होता है। कई बार नींद ना आने कारण तनाव नहीं बल्कि वास्तु दोष भी हो सकता है। वास्तुशास्त्र में अच्छी नींद के लिए भी कई उपाय बताए गए हैं। इन नियमों का पालन करने से नींद में आ रही बाधा खत्म होती है। आज के इस लेख में हम आपको अच्छी नींद के लिए वास्तु के कुछ अचूक उपाय बताएंगे - 

इसे भी पढ़ें: हाथ की रेखाओं से जानिए अपने शादीशुदा जीवन का हाल, इस रेखा के होने से बनते हैं तलाक के योग

वास्तुशास्त्र के अनुसार बेडरूम में कभी भी बिस्तर उत्तर-पूर्व दिशा में नहीं होना चाहिए। ऐसा होने से नींद में बाधा आती है और आप ठीक से सो नहीं पाते हैं। 

वास्तु के अनुसार रात को सोते समय बेडरूम में देसी घी का दीपक जलाकर सोना चाहिए। ऐसा करने से अच्छी नींद आती है। 

घर में सभी लोगों को एक साथ भोजन करना चाहिए ऐसा करने से मन में शांति रहती है आप खुशी महसूस करते है।

अगर रात में ठीक से नींद ना आती हो बेडरूम में आइना ना लगाएं। वास्तुशास्त्र के अनुसार बेडरूम में आइना लगाने से नींद में बाधा आती है। यदि बेडरूम में आइना है तो रात को सोते समय उसे किसी कपड़े से ढँक दें।

इसे भी पढ़ें: इस एक मंत्र के जाप से दूर हो जाएंगी विवाह की सारी दिक्क्तें, मिलेगा मनचाहा जीवनसाथी

वास्तुशास्त्र के अनुसार बिस्तर पर बैठकर खाना नहीं खाना चाहिए। ऐसा करने से नींद में खलल पड़ती है। इसके अलावा बेडरूम में कभी भी झाड़ू नहीं रखनी चाहिए। 

वास्तु के नियम के अनुसार बेडरूम में पलंग लकड़ी का होना चाहिए। इसके साथ ही चौकोर आकार के पलंग पर सोना अच्छा माना जाता है। 

वास्तुशास्त्र के अनुसार बिस्तर अभी भी उत्तर दिशा में नहीं होना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि सोते समय सर दक्षिण या पश्चिम दिशा में होना चाहिए।

- प्रिया मिश्रा