नवरात्रों में कौन से रंग का कपड़ा पहनकर पायें माँ दुर्गा की विशेष कृपा

Navratri
Prabhasakshi
रौनक । Sep 25, 2022 8:55AM
नवरात्रि के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है और माना जाता है कि माता शैलपुत्री को पीला रंग बहुत ही पसंद है, इसलिए इस दिन पीले रंग के वस्त्र धारण करके मां की पूजा करने से मां शैलपुत्री प्रसन्न होती हैं।

अभी कुछ ही दिनों के बाद नवरात्र आरंभ हो जाएंगे। इन 9 दिनों तक मां दुर्गा के अलग-अलग रूपों की विशेष तरह से पूजा-अर्चना की जाती है। यदि आप प्रत्येक दिन अलग-अलग रंग के कपड़े पहनकर मां दुर्गा की उपासना करते हैं तो ऐसी मान्यता है कि ऐसा करने से मां भगवती बेहद प्रसन्न होती हैं और अपने भक्तों की सारी इच्छाएं पूरी करती है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि नवरात्र के अलग-अलग दिन कौन-सा कपड़ा पहन कर माँ भगवती की कृपा पायी जा सकती है। 

नवरात्रि के पहले दिन पहने पीले रंग के कपड़े

नवरात्रि के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है और माना जाता है कि माता शैलपुत्री को पीला रंग बहुत ही पसंद है, इसलिए इस दिन पीले रंग के वस्त्र धारण करके मां की पूजा करने से मां शैलपुत्री प्रसन्न होती हैं।

दूसरे दिन पहने हरे रंग के वस्त्र 

नवरात्रि के दूसरे दिन माता ब्रह्मचारिणी की उपासना की जाती है। मान्यता है कि माता ब्रह्मचारिणी को हरा रंग बेहद ही प्रिय है, इसलिए उनकी चुनरी और श्रृंगार भी हरे रंग से ही किया जाता है। मां की पूजा हरे रंग के कपड़े पहनकर ही करनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: नवरात्रि त्योहार के शुभ मुहूर्त से लेकर घटस्थापना की विधि तक जानिए हर महत्वपूर्ण बातें

मां चंद्रघंटा को प्रिय है भूरा रंग

तीसरे दिन मां दुर्गा के चंद्रघंटा स्वरूप की पूजा की जाती है उन्हें भूरा रंग बहुत प्रिय है इसलिए उनका श्रृंगार भी भूरे रंग के वस्त्रों से ही किया जाता है। भूरे रंग के कपड़े पहनकर ही मां की पूजा करनी चाहिए।

चौथे दिन धारण करें नारंगी रंग के कपड़े

चौथे दिन मां कुष्मांडा की पूजा की जाती है। ऐसी मान्यता है कि उन्हें नारंगी रंग बहुत पसंद है। मां की पूजा के दौरान सारा श्रंगार भी नारंगी रंग के कपड़ों से ही किया जाता है इसलिए उनकी पूजा नारंगी रंग के कपड़े पहनकर करनी चाहिए। इससे माता खुश होती हैं। 

मां स्कंदमाता को प्रिय है सफ़ेद रंग 

पांचवें दिन मां स्कंदमाता की पूजा-उपासना की जाती है। मान्यता है कि मां स्कंदमाता को सफेद रंग से बेहद पसंद है, इसलिए उनकी पूजा करते हुए सफेद रंग के कपड़े जरूर पहनने चाहिए।

छठे दिन पहनें लाल रंग के कपड़े

छठे दिन मां कात्यायनी की पूजा की जाती है। ऐसी मान्यता है कि मां कात्यायनी को लाल रंग बेहद पसंद है, इसीलिए उनका श्रृंगार भी लाल रंग के कपडों से किया जाता है और भक्तों को भी मां की कृपा पाने के लिए लाल रंग के कपड़े पहनने चाहिए।

इसे भी पढ़ें: शारदीय नवरात्रि में मां दुर्गा हाथी पर आएंगी और समृद्धि देकर जाएंगी

मां कालरात्रि को प्रिय है नीला रंग

सातवें दिन मां कालरात्रि की पूजा की जाती है उन्हें नीला रंग बहुत भाता है। उनकी मूर्ति के वस्त्रों और पूजा के दूसरे सामानों का रंग भी नीला ही रखा जाता है।

गुलाबी रंग के वस्त्र पहनें आठवें दिन 

आठवें दिन मां महागौरी की पूजा की जाती है उन्हें गुलाबी रंग से बेहद प्रिय है, इसलिए उन्हें प्रसन्न करने के लिए नवरात्र के आठवें दिन गुलाबी रंग के कपड़े पहनने चाहिए।

नौवें दिन पहनें जामुनी रंग के कपड़े  

नौवें और आखिरी दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा-उपासना की जाती है। मान्यता है कि जामुनी रंग मां सिद्धिदात्री को बहुत प्रिय है, इसलिए उनकी पूजा करते समय जामुनी रंग के कपड़े पहनने चाहिए ताकि माँ भगवती की कृपा आप पर बनी रहे। 

- रौनक

अन्य न्यूज़