हाथ में है ये रेखा तो जरूर पूरा होगा विदेश जाने का सपना, कमाएंगे खूब पैसा

हाथ में है ये रेखा तो जरूर पूरा होगा विदेश जाने का सपना, कमाएंगे खूब पैसा
unsplah

यदि हथेली में जीवन रेखा और भाग्य रेखा को पार करती हुई को रेखा हो तो इससे जातक विदेश यात्रा करता है। इसके अलावा चंद्र पर्वत के पास उभरने वाली आड़ी-तिरछी रेखाओं से भी विदेश यात्रा के योग बनते हैं। यात्रा रेखा जितनी स्पष्ट और गहरी होती है जातक को यात्रा करने का उतना ही शौक होता है।

हस्तरेखाशास्त्र के अनुसार व्यक्ति के हाथ पर बनने वाली रेखाओं से का संबंध उसके जीवन में होने वाली घटनाओं से होता है। हस्तरेखाशास्त्र के अनुसार हाथ पर बनी रेखाओं को देखकर इस बात की जानकारी प्राप्त की जा सकती है कि व्यक्ति के हाथ में विदेश यात्रा का योग है या नहीं। हस्तरेखाशास्त्र के अनुसार यदि हथेली में जीवन रेखा और भाग्य रेखा को पार करती हुई को रेखा हो तो इससे जातक विदेश यात्रा करता है। इसके अलावा चंद्र पर्वत के पास उभरने वाली आड़ी-तिरछी रेखाओं से भी विदेश यात्रा के योग बनते हैं। माना जाता है कि यात्रा रेखा जितनी स्पष्ट और गहरी होती है जातक को यात्रा करने का उतना ही शौक होता है। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे कि आप कैसे जान सकते हैं कि आपके हाथ में विदेश यात्रा का योग है - 

इसे भी पढ़ें: रुद्राक्ष पहनने से दूर होती है जीवन की सारी समस्याएं, जानें कौन से रुद्राक्ष से मिलता है क्या लाभ

हस्तरेखाशास्त्र में मुताबिक यदि यात्रा रेखा गहरी और स्पष्ट है तो इसका मतलब है कि ऐसा व्यक्ति विदेश में स्थायी रूप से रह सकता है। ऐसे व्यक्ति को विदेश में पैसे कमा का मौका भी मिलता है। 

हस्तरेखाशास्त्र के मुताबिक हथेली पर जीवन रेखा से निकलकर कोई रेखा भाग्य रेखा को पार करते हुए चंद्र पर्वत की तरफ जाए तो जातक विदेश यात्रा करता है। 

यदि किसी व्यक्ति के हाथ में मणिबंध को पार करती हुई कोई रेखा मंगल पर्वत की ओर जाती है इससे जातक के लिए समुद्री विदेश यात्रा के योग बनते हैं। 

हस्तरेखाशास्त्र के अनुसार यदि किसी जातक के हाथ में बुध पर्वत से निकलती हुई कोई रेखा अनामिका तक जाए तो व्यक्ति को विदेश यात्रा का सुख प्राप्त होता है। 

माना जाता है कि यदि अगर हथेली में कोई रेखा चंद्र पर्वत से निकलकर शनि पर्वत तक जाती हो तो ऐसा व्यक्ति विदेश में जाकर पैसे कमाता है।

इसे भी पढ़ें: घर में पूर्वजों की तस्वीर लगाने से पहले जान लें ये नियम वरना हो छिन जाएंगी सारी खुशियाँ

हस्तरेखाशास्त्र के अनुसार यदि किसी के हाथ में यात्रा रेखा जीवन रेखा से भी अधिक मोती और गहरी हो तो ऐसा व्यक्ति किसी दूसरे देश में जाकर बस सकता है।

कहा जाता है कि यदि हथेली पर चंद्र पर्वत के पास बनने वाली आड़ी-तिरछी रेखाएं चंद्र पर्वत को काटती हुई भाग्य रेखा से मिल जाएं तो व्यक्ति को विदेश यात्रा से महत्वपूर फलों की प्राप्ति होती है।

हस्तरेखाशास्त्र के अनुसार यदि हथेली पर चंद्र पर्वत के पास त्रिभुज का निशान बनता हो तो ऐसा व्यक्ति दूर-दूर के देशों में यात्रा करता है।

- प्रिया मिश्रा