गौतमबुद्ध नगर जिले में कोविड-19 के 14 नये मामले सामने आए, कुल संक्रमितों की संख्या 129 हुई

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 28, 2020   10:21
गौतमबुद्ध नगर जिले में कोविड-19 के 14 नये मामले सामने आए, कुल संक्रमितों की संख्या 129 हुई

अब तक गौतमबुद्ध नगर जिले में 129 मामले सामने आए हैं।’’ अधिकारियों ने बताया कि अब तक कोविड-19 के 71 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई है और शेष 58 मरीजों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

नोएडा। उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर जिले में सोमवार को आठ स्वास्थ्यकर्मियों सहित 14 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई। इसके साथ ही जिले में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 129 हो गई है। अधिकारियों ने बताया कि सोमवार को जो नये मामले आए हैं उनमें छह सुपर स्पेशियलिटी बाल चिकित्सालय एंव परास्नातक शिक्षण संस्थान (बाल पीजीआई) के स्वास्थ्य कर्मी है जबकि ईएसआई और जिला अस्पताल के एक-एक कर्मी के भी कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। 

इसे भी पढ़ें: CM योगी ने आइसोलेशन सेंटर में NCC के प्रशिक्षित स्वयंसेवकों तैनात करने के आदेश दिए

उन्होंने बताया कि सोमवार को सामने आए बाकी मामले ग्रेटर नोएडा पाई-1 सेक्टर, कुलेसरा, जोंछना, चौडा गांव, नोएडा सेक्टर 31 का निठारी और सेक्टर 63 का छोटपुर गांव से आए हैं। जिला निगरानी अधिकारी सुनील दोहरे ने बताया, ‘‘कुल 186 नमूनों की जांच रिपोर्ट गत 24 घटे में आई है जिनमें से 14 के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। अब तक गौतमबुद्ध नगर जिले में 129 मामले सामने आए हैं।’’ उन्होंने बताया, ‘‘ अब तक कोविड-19 के 71 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई है और शेष 58 मरीजों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक जिले में कोविड-19 मरीजों के ठीक होने की दर 55.03 प्रतिशत है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक जिले में अब तक 3,530 नमूनों की जांच की गई है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।