CM योगी ने आइसोलेशन सेंटर में NCC के प्रशिक्षित स्वयंसेवकों तैनात करने के आदेश दिए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 28, 2020   08:50
CM योगी ने आइसोलेशन सेंटर में NCC के प्रशिक्षित स्वयंसेवकों तैनात करने के आदेश दिए

मुख्यमंत्री योगी सोमवार को यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में लाॅकडाउन व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अन्य राज्यों से आने वाले प्रवासी मजदूरों को निश्चित रूप से पृथक-वास में भेजा जाये और इससे पूर्व सभी श्रमिकों की मेडिकल जाँच भी सुनिश्चित करायी जाए।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कहा कि पृथक-वास केंद्र में राष्ट्रीय कैडेट कोर के प्रशिक्षित स्वयंसेवकों को तैनात किए जाएं। इसके साथ ही योगी ने कोविड और नाॅन कोविड अस्पतालों को अलग-अलग परिसरों में बनाये जाने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि लाॅकडाउन व्यवस्था का प्रभावी पालन सुनिश्चित कराया जाए। उन्होंने कहा कि मण्डी खुले स्थानों में लगवायी जाए तथा इनमें सामाजिक मेल जोल की दूरी का विशेष ध्यान रखा जाए। योगी ने कहा कि होम डिलीवरी में लगे लोगों का मेडिकल टेस्ट भी कराया जाए और प्रत्येक जनपद में 15,000 से 25,000 क्षमता के पृथक-वास केंद्र एवं आश्रय स्थल की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। 

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री के साथ बैठक के बाद मुख्यमंत्रियों की राय, जानें किस प्रदेश के सीएम ने क्या कहा?

उन्होंने कहा कि पृथक-वास में रखे गये लोगों के नाम, पता, मोबाइल नम्बर युक्त सूची तैयार की जाए। इसके अलावा इन केंद्रों परअच्छे व पर्याप्त भोजन एवं पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। मुख्यमंत्री योगी सोमवार को यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में लाॅकडाउन व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अन्य राज्यों से आने वाले प्रवासी मजदूरों को निश्चित रूप से पृथक-वास में भेजा जाये और इससे पूर्व सभी श्रमिकों की मेडिकल जाँच भी सुनिश्चित करायी जाए। उन्होंने कहा कि पृथक-वास केंद्रों पर एनसीसी के प्रशिक्षित स्वयंसेवक तैनात किए जाएं। डेडिकेटेड कोविड अस्पताल बनाये जाने पर बल देते हुए उन्होंने कोविड अस्पतालों और नाॅन कोविड अस्पतालों को अलग-अलग परिसरों में बनाये जाने के निर्देश दिये।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।