लोकसभा में हंगामा कर रहे TDP और AIADMK के 19 सदस्य निलंबित

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 3 2019 2:21PM
लोकसभा में हंगामा कर रहे TDP और AIADMK के 19 सदस्य निलंबित
Image Source: Google

एक बार के स्थगन के बाद जब सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे आरंभ हुई तो अन्नाद्रमुक के सदस्य नारेबाजी करते हुए आसन के निकट पहुंच गए। इस दौरान इनमें से कुछ सदस्य कागज के टुकड़े उछालने लगे।

नयी दिल्ली। लोकसभा में आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने की मांग को लेकर नारेबाजी कर रहे तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) तथा कावेरी बांध मुद्दे पर हंगामा कर रहे अन्नाद्रमुक के सदस्यों समेत कुल 19 सदस्यों को स्पीकर सुमित्रा महाजन ने बृहस्पतिवार को सदन से चार कामकाजी दिवस के लिए निलंबित कर दिया। लोकसभा अध्यक्ष ने जानबूझकर सदन में आसन के समीप आकर और नियमों का उल्लंघन करते हुए कार्यवाही में बाधा डालने के लिए तेदेपा के 11 सदस्यों और अन्नाद्रमुक के 7 सदस्यों को नियम 374 ए के तहत सदन की कार्यवाही से चार कामकाजी दिनों के लिए निलंबित कर दिया। इनके साथ ही असंबद्ध सदस्य रेणुका बूटा को भी चार कामकाजी दिन के लिए निलंबित कर दिया गया। रेणुका बूटा वाईएसआर कांग्रेस पार्टी की टिकट पर विजयी हुई थी। 



 
एक बार के स्थगन के बाद जब सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे आरंभ हुई तो अन्नाद्रमुक के सदस्य नारेबाजी करते हुए आसन के निकट पहुंच गए। इस दौरान इनमें से कुछ सदस्य कागज के टुकड़े उछालने लगे। इस दौरान तेदेपा सदस्य भी अपनी मांग को लेकर नारेबाजी कर रहे थे। लोकसभा अध्यक्ष ने हंगामा कर रहे सदस्यों को चेतावनी दी कि वे अपने स्थान पर जाएं, नहीं तो ‘मैं नेम करूंगी।’ हंगामे के बीच संसदीय कार्य मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि सदन की मर्यादा भंग की जा रही है। राफेल मामले पर और देश के मुद्दों पर चर्चा होनी है। सदस्यों से आग्रह है कि अपने स्थान पर जाएं। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन के दोबारा चेतावनी देने के बाद भी स्थिति ज्यों की त्यों बनी रही और कुछ सदस्य कागज के टुकड़े फेंकते रहे।
 
 


इसके बाद स्पीकर ने 19 सदस्यों को चार कामकाजी दिनों के लिए सदन से निलंबित कर दिया। इसके बाद उन्होंने कार्यवाही दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी। तेदेपा के निलंबित किये गये 11 सदस्यों में पूर्व केंद्रीय मंत्री अशोक गजपति राजू, जयदेव गल्ला, टी नरसिंहन, मुरली मोहन, वेंकटेश्वर राव मगंत्ती, श्रीराम मलयाद्रि, के निम्मला, राममोहन नायडू, कोनकल्ला नारायण राव, एम श्रीनिवास राव और जेसी दिवाकर रेड्डी हैं। अन्नाद्रमुक के निलंबित किये गये सात सदस्यों में ए अरुणमोझितेवन, गोपालकृष्णन चिन्नाराज, आर गोपालकृष्णन, आर पी मुरुताराजा, जे टी नटर्जी, वी पनीरसेल्वम और पी आर सेंतिलनाथन हैं। लोकसभा की कार्यवाही का अंतिम दिन 8 जनवरी है। इस तरह उक्त सदस्य सत्र के शेष हिस्से में भाग नहीं ले सकेंगे। गौरतलब है कि कावेरी मुद्दे पर हंगामा कर रहे अन्नाद्रमुक के 24 सदस्यों को बुधवार को पांच कामकाजी दिनों के लिए निलंबित किया गया था।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Video