UP में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 19 नये मामले आये, अब तक कुल 6,60,82,449 को लगाई गई वैक्सीन

corona infection
प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 19 नये मामले आये हैं, जो केवल 15 जनपदों से आये है तथा 60 जनपदों में कोई भी कोविड का केस रिपोर्ट नहीं हुआ है। प्रदेश में विगत 24 घंटे में 22 लोग तथा अब तक 16,86,056 लोग कोविड-19 से ठीक हुये।

मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार प्रदेश में बड़ी संख्या में संक्रमण कम होने के बावजूद, टेस्टिंग कम नहीं की जा रही। गत एक दिन में कुल 2,16,629 सैम्पल की जांच की गयी। विभिन्न जनपदांे से आरटीपीआर जांच के लिए 1,19,995 सैम्पल भेजे गये। प्रदेश में अब तक कुल 7,12,89,637 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 19 नये मामले आये हैं, जो केवल 15 जनपदों से आये है तथा 60 जनपदों में कोई भी कोविड का केस रिपोर्ट नहीं हुआ है। प्रदेश में विगत 24 घंटे में 22 लोग तथा अब तक 16,86,056 लोग कोविड-19 से ठीक हुये। प्रदेश में कोरोना के कुल 342 एक्टिव मामले हैं तथा 231 लोग होम आइसोलेशन में प्रदेश में अब तक सर्विलांस टीम के माध्यम से 3,58,73,745 घरों के 17,24,43,671 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया। प्रदेश में सर्विलांस एवं कोविड वैक्सीनेशन का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। प्रदेश में कल 8,26,234 वैक्सीन की डोज लगायी गई। पहली डोज 5,55,94,890 तथा दूसरी डोज 1,04,87,559 लगायी गयी। अब तक कुल 6,60,82,449 डोज लगायी गयी। छूटेें हुए शिक्षक, स्कूल स्टाफ व बच्चों को ले आने व ले जाने वाले के वाहनों के स्टाफ का वैक्सीनेशन प्राथमिकता के आधार पर किया जा रहा है। 18 वर्ष से अधिक आयु वाले स्कूली छात्र/छात्राओं का भी वैक्सीनेशन प्राथमिकता के आधार पर किया जा रहा है। 27 एवं 28 अगस्त, 2021 को वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारियों की टीम विभिन्न जनपदों मेें जाकर कोविड की संभावित तीसरी लहर के संबंध में की जा रही तैयारियों का निरीक्षण करेंगी। वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा निरीक्षण के दौरान कोविड वैक्सीनेशन, पीकू/नीकू बेड, स्वास्थ्य से संबंधित नये उपकरण तथा ऑक्सीजन प्लांट आदि को देखा जायेगा तथा मॉक ड्रिल भी की जायेगी। प्रदेश में कोविड संक्रमण अभी समाप्त नहीं हुआ है, इसलिए कोविड प्रोटोकाल का पालन अवश्य करें। 

इसे भी पढ़ें: पराली जलाने के मामले में किसानों के खिलाफ केस वापस लेगा उत्तर प्रदेश, CM योगी ने किया ऐलान

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि मुख्यमंत्री जी के निर्देशानुसार प्रदेश में बड़ी संख्या में संक्रमण कम होने के बावजूद, टेस्टिंग कम नहीं की जा रही है। गत एक दिन में कुल 2,16,629 सैम्पल की जांच की गयी है। विभिन्न जनपदांे से आरटीपीआर जांच के लिए 1,19,995 सैम्पल भेजे गये। प्रदेश में अब तक कुल 7,12,89,637 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 19 नये मामले आये हैं, जो केवल 15 जनपदों से आये है तथा 60 जनपदों में कोई भी कोविड का केस रिपोर्ट नहीं हुआ है। प्रदेश में विगत 24 घंटे में 22 लोग तथा अब तक 16,86,056 लोग कोविड-19 से ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के कुल 342 एक्टिव मामले हैं तथा 231 लोग होम आइसोलेशन में है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक सर्विलांस टीम के माध्यम से 3,58,73,745 घरों के 17,24,43,671 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस एवं कोविड वैक्सीनेशन का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। प्रदेश में कल 8,26,234 वैक्सीन की डोज लगायी गई। पहली डोज 5,55,94,890 तथा दूसरी डोज 1,04,87,559 लगायी गयी। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 6,60,82,449 डोज लगायी गयी हैं। उन्होंने बताया कि छूटे हुए शिक्षक, स्कूली स्टाफ व बच्चों को ले आने व ले जाने वाहनों के स्टाफ का वैक्सीनेशन प्राथमिकता के आधार पर किया जा रहा है। इसके साथ-साथ 18 वर्ष से अधिक आयु वाले स्कूली छात्र/छात्राओं का भी वैक्सीनेशन प्राथमिकता के आधार पर किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि 27 एवं 28 अगस्त, 2021 को वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारियों की टीम विभिन्न जनपदों मेें जाकर कोविड की संभावित तीसरी लहर के संबंध में की जा रही तैयारियों का निरीक्षण करेंगी। वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा निरीक्षण के दौरान कोविड वैक्सीनेशन, पीकू/नीकू बेड, स्वास्थ्य से संबंधित नये उपकरण तथा ऑक्सीजन प्लांट आदि को देखा जायेगा तथा मॉक ड्रिल भी की जायेगी। प्रदेश में कोविड संक्रमण अभी समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए कोविड प्रोटोकाल का पालन अवश्य करें।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़