बहन की डिलीवरी के बाद घर का काम करने आई थी साली, जीजा ने किया रेप

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 28, 2021   08:30
बहन की डिलीवरी के बाद घर का काम करने आई थी साली, जीजा ने किया रेप

पुलिस ने पीड़िता का बयान दर्ज मामले में आगे की जांच शुरु कर दी है। मिली जानकारी के अनुसार पीड़िता की बहन की डिलीवरी हुई थी। जिसके बाद घर का काम करने के लिए युवती को बुलाया गया था। जहां जीजा ने चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया।

राजस्थान के भरतपुर से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। जहां एक जीजा पर अपनी साली के साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने का आरोप लगा है। मामले में 21 साल की युवती मे अपने जीजा के खिलाफ महिला थाने में शिकायत दर्ज करवाई है।

पुलिस ने पीड़िता का बयान दर्ज मामले में आगे की जांच शुरु कर दी है। मिली जानकारी के अनुसार पीड़िता की बहन की डिलीवरी हुई थी। जिसके बाद घर का काम करने के लिए युवती को बुलाया गया था। जहां जीजा ने चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। मामले में पीड़िता का कहना है कि जीजा ने चाय में कुछ नशीला पदार्थ मिलाकर उसके साथ रेप किया। 

वारदात में बहन ने भी दिया जीजा का साथ

 

पीड़िता ने आगे बताया कि होश आने पर उसने घटना का जानकारी अपने परिजनों को दी। इसके बाद वह अपने परिवारवालों के साथ थाने पहुंची और जीजा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। वहीं महिला थाना प्रभारी राम सिंह ने बताया कि एक युवती ने अपनी जीजा पर दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई है। 

युवती का कहना है कि बहन की डिलीवरी के बाद वह घर का काम करने के लिए वहां आई थी। चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर जीजा ने उसके साथ दुष्कर्म किया और उसकी बहन ने भी उसका साथ दिया। महिला थाना प्रभारी राम सिंह के मुताबिक पुलिस मामले की जांच कर कार्रवाई करेगी। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...