मुंबई से गोवा पहुंचे कॉर्डेलिया क्रूज पर कोरोना का कहर, 66 यात्री पॉजिटिव

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 3, 2022   18:39
मुंबई से गोवा पहुंचे कॉर्डेलिया क्रूज पर कोरोना का कहर, 66 यात्री पॉजिटिव

गोवा के कॉर्डेलिया क्रूज जहाज पर सवार 2,000 में से 66 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित मिले।मुंबई से गोवा आये जहाज पर नये साल की छुट्टी में निकले लोग सवार थे। पीपीई किट पहने हुए एक चिकित्सा दल यात्रियों और चालक दल के सदस्यों की आरटी-पीसीआर जांच करने पहुंचा और नमूना लेने की प्रक्रिया सोमवार दोपहर तक जारी थी।

पणजी। मुंबई से गोवा आये कॉर्डेलिया क्रूज जहाज पर सवार 2,000 से अधिक लोगों में से 66 लोग कोरोना वायरस संक्रमित मिले हैं। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने सोमवार को यह जानकारी दी। इसी जहाज पर स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने पिछले साल अक्टूबर में एक रेव पार्टी का भंडाफोड़ कर कुछ नामचीन लोगों के जुड़े होने की बात कही थी। मुंबई से गोवा आये जहाज पर नये साल की छुट्टी में निकले लोग सवार थे। पीपीई किट पहने हुए एक चिकित्सा दल यात्रियों और चालक दल के सदस्यों की आरटी-पीसीआर जांच करने पहुंचा और नमूना लेने की प्रक्रिया सोमवार दोपहर तक जारी थी। एक अधिकारी ने बताया कि जहाज के चालक दल का एक सदस्य रविवार को कोरोना वायरस संक्रमित मिला था, जिसके बाद इस पर सवार सभी लोगों की जांच करनी जरूरी हो गयी।

इसे भी पढ़ें: सुल्ली डील और बुल्ली बाई मामले में दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस की साइबर सेल को किया सम्मन

अधिकारियों ने निर्देश दिये थे कि जब तक आरटी-पीसीआर जांच का नतीजा नहीं आ जाता, तब किसी को जहाज से उतरने की अनुमति नहीं मिलनी चाहिए। जहाज मुरगांव पोर्ट क्रूज टर्मिनल के पास खड़ा है। एक निजी कंपनी का यह जहाज रविवार को गोवा के मुरगांव पोर्ट ट्रस्ट पहुंचा था। बाद में राणे ने ट्वीट किया, ‘‘कॉर्डेलिया क्रूज जहाज से लिये गये 2,000 लोगों के नमूनों में से 66 यात्री कोरोना वायरस से संक्रमित मिले हैं। संबंधित अधिकारियों को सूचित किया गया है।’’ गोवा में एक दिन पहले कोविड-19 के 388 नये मामले आये थे और कुल संक्रमितों की संख्या 1,81,570 हो गयी, वहीं एक संक्रमित की मृत्यु होने से मृतक संख्या 3,523 हो गयी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...