23 मई के नतीजों के बाद अन्नाद्रमुक सरकार के पास बहुमत नहीं होगा: तमिलसेल्वन

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 11 2019 3:06PM
23 मई के नतीजों के बाद अन्नाद्रमुक सरकार के पास बहुमत नहीं होगा: तमिलसेल्वन
Image Source: Google

एएमएमके के अग्रणी नेता ने कहा कि ऐसी कोई स्थिति होने पर सदन में शक्ति परीक्षण होगा तथा उनकी पार्टी सरकार को सत्ता से बाहर करने के लिए उसके खिलाफ मतदान करेगी।

मदुरै। यदि तमिलनाडु विधानसभा में अन्नाद्रमुक सरकार के बहुमत साबित करने की नौबत आयेगी तो अम्मा मक्कल मुनेत्र कझगम (एएमएमके) सत्ता पक्ष के समर्थन में मतदान नहीं करेगी । पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने शनिवार को यह जानकारी दी। एएमएमके के प्रचार सचिव थंगा तमिलसेल्वन ने कहा कि राज्य में 22 विधानसभा सीटों के लिए 23 मई को उपचुनाव के परिणामों की घोषणा के बाद अन्नाद्रमुक सरकार के पास बहुमत नहीं होगा। 

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: नहीं होगी जयललिता की मौत की जांच! कोर्ट ने जांच टीम की कार्यवाही पर लगाई रोक

एएमएमके के अग्रणी नेता ने कहा कि ऐसी कोई स्थिति होने पर सदन में शक्ति परीक्षण होगा तथा उनकी पार्टी सरकार को सत्ता से बाहर करने के लिए उसके खिलाफ मतदान करेगी। उन्होंने कहा, ‘‘हमारा रुख है कि इस सरकार को जाना चाहिए, यह सत्य है। हम इस सरकार को सत्ता से बाहर कर अपने नेता टीटीवी दिनाकरन की अगुवाई में सरकार बनाएंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लोग हमारे पक्ष में तभी वोट करेंगे जब हम सरकार को सत्ता से बाहर करेंगे।’’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘विश्वासघाती (अन्नाद्रमुक के शीर्ष नेता के पलानीस्वामी एवं ओ पनीरसेल्वम) एक साथ आ गये हैं और एक भ्रष्ट सरकार चला रहे हैं।’’ एएमएमके और अन्नाद्रमुक एक दूसरे पर ‘‘विश्वासघाती’’ होने का आरोप लगाते रहे हैं। एएमएमके ने विश्वास जताया कि वह विधानसभा उपचुनाव जीतेगा। राज्य विधानसभा की 18 सीटों के लिए 18 अप्रैल को उपचुनाव हो चुके हैं जबकि 19 मई को चार अन्य सीटों के लिए मतदान होना है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video