वायुसेना प्रमुख आर के एस भदौरिया ने उड़ाया एक सीट वाला तेजस विमान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 27, 2020   14:56
वायुसेना प्रमुख आर के एस भदौरिया ने उड़ाया एक सीट वाला तेजस विमान

वायु सेना प्रमुख, वायुसेना के 18 स्क्वॉड्रन के संचालन के लिए सुलूर में थे, जिसका कूट नाम फ्लाइंग बुलेट रखा गया है। यह तेजस विमान को उड़ाने वाला भारतीय वायु सेना का दूसरा स्क्वाड्रन होगा। तेजस को वैमानिकी विकास एजेंसी और हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) द्वारा विकसित किया गया है।

कोयंबटूर। वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया ने बुधवार को सुलूर वायुसेना स्टेशन पर एक सीट वाला हल्का तेजस विमान उड़ाया। अधिकारियों ने बताया कि तेजस विमान विकसित करने वाली टीम में शामिल रहे भदौरिया ने विमान उड़ाया, जोकि वायुसेना की 45वीं स्क्वॉड्रन का हिस्सा है।

वायु सेना प्रमुख, वायुसेना के 18 स्क्वॉड्रन के संचालन के लिए सुलूर में थे, जिसका कूट नाम फ्लाइंग बुलेट रखा गया है। यह तेजस विमान को उड़ाने वाला भारतीय वायु सेना का दूसरा स्क्वाड्रन होगा। तेजस को वैमानिकी विकास एजेंसी और हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) द्वारा विकसित किया गया है। जेट का जीवनकाल किसी भी अन्य फ्रंट-लाइन लड़ाकू विमान की तरह न्यूनतम 30 वर्ष होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...