Gorakhnath Mandir Attack: अखिलेश बोले- मुर्तजा की मानसिक हालत का रखें ध्यान, केशव मौर्य का पलटवार

Keshav Maurya
अंकित सिंह । Apr 07, 2022 10:02AM
अखिलेश यादव का यह बयान कन्नौज में आया जहां वह विधान परिषद चुनाव के सिलसिले में पहुंचे थे। इसी को लेकर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने पलटवार किया है। केशव मौर्य ने कहा कि गोरखनाथ मंदिर पर जो हमला हुआ, वह गंभीर घटना है। जांच में जुटी पुलिस का मनोबल तोड़ने और ऐसे अपराध करने वालों का मनोबल बढ़ाने का प्रयास अखिलेश यादव द्वारा किया गया।

गोरखनाथ मंदिर के बाहर सुरक्षा कर्मियों पर हमले को लेकर राजनीति भी तेज हो गई है। दरअसल, इस हमले का आरोपी अहमद मुर्तजा अब्बासी को लेकर अखिलेश यादव ने बयान दिया है। अखिलेश यादव के बयान पर केशव प्रसाद मौर्य ने पलटवार किया है। दरअसल, अखिलेश यादव ने अहमद मुर्तजा अब्बासी के मानसिक हालात को ध्यान रखने का आह्वान किया और बीजेपी सरकार की आलोचना की। इसी को लेकर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता केशव प्रसाद मौर्य ने समाजवादी पार्टी के नेता पर पलटवार किया है। दरअसल, अखिलेश ने कहा कि अभी जो जानकारी आ रही है और उसके पिता ने जो कहा है उसके हिसाब से मुर्तजा को दिमागी समस्याएं थी। उसके साथ बाइपोलर समस्याएं थी। मुझे लगता है कि इस पहलू को भी देखना पड़ेगा। भाजपा तो वह पार्टी है जो बात को ना जाने कितना खींच देती है।

दरअसल, अखिलेश यादव का यह बयान कन्नौज में आया जहां वह विधान परिषद चुनाव के सिलसिले में पहुंचे थे। इसी को लेकर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने पलटवार किया है। केशव मौर्य ने कहा कि गोरखनाथ मंदिर पर जो हमला हुआ, वह गंभीर घटना है। जांच में जुटी पुलिस का मनोबल तोड़ने और ऐसे अपराध करने वालों का मनोबल बढ़ाने का प्रयास अखिलेश यादव द्वारा किया गया। उन्हें ऐसी टिप्पणी नहीं करनी चाहिए। मैं उनके बयान की भर्त्सना करता हूं। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी को हमेशा से आतंकवादियों से जोड़ा गया है। उन्होंने 2013 के आतंकी हमलों के मामले वापस ले लिए थे। मैं आतंकवादियों का मनोबल बढ़ाने के उनके प्रयासों की निंदा करता हूं।

इसे भी पढ़ें: आतंकियों के निशाने पर Gorakhnath Mandir! हमले की जांच में जुटी Police का बड़ा दावा

केशव मौर्य ने आगे कहा कि अखिलेश को एक आरोपी पर खुलेआम टिप्पणी नहीं करनी चाहिए। वह पूर्व सीएम हैं। हमारे सुरक्षाकर्मियों ने उसे आतंकवादी संगठनों से जुड़े होने के बाद अपनी जान जोखिम में डालकर पकड़ लिया। उनका बयान सस्ता और निंदनीय है। समाजवादी पार्टी बनेगी 'समाप्त' पार्टी। गोरखपुर स्थित गोरखनाथ मंदिर के द्वार पर हुए हमले के आरोपी अहमद मुर्तजा अब्बासी को बुधवार को पूछताछ के लिए आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) के लखनऊ मुख्यालय लाया गया। अब्बासी सोमवार से सात दिन की पुलिस हिरासत में है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, मुर्तजा से उसकी गतिविधियों और हमले से पहले जिन लोगों से वह मिला उनके बारे में पूछताछ की जाएगी। प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बताया, हम इस घटना से जुड़े हर पहलू का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। गिरफ्तार किया गया व्यक्ति किन लोगों या संगठनों से जुड़े हैं, इसका भी पता लगाया जा रहा है। इस बीच, वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने दावा किया कि पकड़ा गया अभियुक्त केमिकल इंजीनियर है और उसने अपने लैपटॉप पर मुस्लिम कट्टरपंथियों के भाषण देखे थे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़