उत्तर प्रदेश: अन्य राज्यों में भी हो रही बिजली की घोषित कटौती, विद्युत खरीदने से लेकर हो रहे सभी सम्भव उपाय

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 29, 2022   19:39
उत्तर प्रदेश: अन्य राज्यों में भी हो रही बिजली की घोषित कटौती, विद्युत खरीदने से लेकर हो रहे सभी सम्भव उपाय
ANI twitter

ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री ने कहा कि पावर कारपोरेशन मुख्यमंत्री जी के निर्देशानुसार प्रदेश में तय शिड्यूल के अनुरूप ही सभी क्षेत्रों की विद्युत आपूर्ति करने का प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा कि शहरों को यथा सम्भव कटौती से मुक्त रखने का प्रयास किया जा रहा है। ग्रामीण क्षत्रों में भी अत्यन्त आवश्यकता पड़ने पर ही आपात कटौती की जा रही हैं।

भीषण गर्मी के कारण प्रदेश में बिजली की मांग अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गयी है। इस समय देश के अन्य राज्यों में भी बिजली की घोषित कटौती शुरू हो गयी है। ऐसा अचानक से बढ़ी गर्मी और कुछ अन्य तकनीकी कारणों से हो रहा है। इन प्रतिकूल परिस्थितियों में भी उ0प्र0 पावर कारपोरेशन प्रदेश में विद्युत आपूर्ति को सामान्य रखने और उपभोक्ताओं को अधिकतम विद्युत आपूर्ति देने हेतु युद्धस्तर पर प्रयासरत है। ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत मंत्री ने कहा कि पावर कारपोरेशन मुख्यमंत्री जी के निर्देशानुसार प्रदेश में तय शिड्यूल के अनुरूप ही सभी क्षेत्रों की विद्युत आपूर्ति करने का प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा कि शहरों को यथा सम्भव कटौती से मुक्त रखने का प्रयास किया जा रहा है। ग्रामीण क्षत्रों में भी अत्यन्त आवश्यकता पड़ने पर ही आपात कटौती की जा रही हैं। कारपोरेशन बिजली की मांग के अनुरूप विद्युत उपलब्धता सुनिश्चित करने हेतु विद्युत खरीदने से लेकर सभी सम्भव उपाय कर रहा है। हमें आशा है कि हम शीघ्र ही विद्युत की समस्या को खत्म करने में सफल होंगे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि विद्युत के कार्य में 24ग7 सजग रहें और जन शिकायतों पर विशेष ध्यान दें। उन्होंने खराब उपकरणों का त्वरित मरम्मत करने और किसी भी उपकरण के खराब होने की स्थिति का पूर्वानुमान कर भी समय से मरम्मत करें और इन सभी कार्यों के लिए जरूरी उपकरण सामान की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करें।

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 220 नये मामले, 1,394 एक्टिव केस, वैक्सीनेशन का कार्य जारी

ऊर्जा मंत्री ने उपभोक्ताओं एवं जनप्रतिनिधियों से अपील की है कि वे इन विशेष परिस्थितियों में हमारा सहयोग करें और ऐसा कोई कार्य न करें, जिससे विद्युत कार्मिकों के कार्य में बाधा पहुंचे। हमारे विद्युत कर्मी निर्बाध आपूर्ति के लिए दिन-रात अपने कार्य में लगे हैं। उन्होंने कहा कि गर्मी के कारण बिजली की मांग बढ़ी है, वहीं कई बिजली इकाइयां तकनीकी कारणों से हफ्तों से बन्द है, ऐसे में बिजली की बचत के प्रयास में सभी अपना सहयोग प्रदान करें। उन्होंने बताया है कि बिजली की बढ़ती मांग को देखते हुए पावर कारपोरेशन ने एक मई से लगभग दो हजार मेगावाट अतिरिक्त बिजली का इंतजाम किया है। सिक्किम से 400 मेगावाट हाइड्रो पावर जुटाने के अलावा बैकिंग (पूर्व में दी गयी बिजली के बदले अब बिजली लेने की व्यवस्था) की 300 मेगावाट विद्युत मध्यप्रदेश से और 348 मेगावाट बिजली राजस्थान से मिलने की सम्भावना है। इसी तरह बिडिंग के जरिए भी 450 से 800 मेगावाट बिजली की व्यवस्था की जा री है। पावर कारपोरेशन के अध्यक्ष एम देवराज का कहना है कि बिजली संकट से निपटने के हर संभव प्रयास किए जा रहे है। उन्होंने ने उम्मीद जताई कि पहली मई से लगभग डेढ़-दो हजार मेगावाट अतिरिक्त बिजली का इंतजाम होने से बिजली आपूर्ति की स्थिति में निश्चित तौर पर सुधार होगा। उन्होंने कहा कि विद्युत उत्पादन की जो ईकाइयां बन्द है उन्हें भी शीघ्र चालू करके का प्रयास युद्धस्तर पर किया जा रहा है। विभिन्न स्तरों पर आपूर्ति, उत्पादन, उपभोक्ता सेवा एवं राजस्व प्राप्ति आदि की गहनता मॉनीटरिंग हो रही है।

कोरोना संक्रमण के 295 नये मामले आये हैं

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद ने आज बताया कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,26,523 सैम्पल की जांच की गयी। कोरोना संक्रमण के 295 नये मामले आये हैं। प्रदेश में अब तक कुल 11,11,67,064 सैम्पल की जांच की गयी हैं। उन्होंने बताया कि विगत 24 घण्टों में 223 लोग तथा अब तक कुल 20,49,102 लोग कोविड-19 से ठीक हुए हैं। उन्होने बताया कि प्रदेश में कोरोना के कुल 1463 एक्टिव मामले है।

इसे भी पढ़ें: हेमंत बिस्वा सरमा ने आम स्कूलों में बदलने का दिया था ऑर्डर, अब मदरसों का कायाकल्प करेंगे योगी

श्री प्रसाद ने बताया कि कोविड वैक्सीनेशन का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। प्रदेश में कल 28 अप्रैल, 2022 को एक दिन में 6,22,550 वैक्सीन की डोज दी गयी है। उन्होने बताया कि प्रदेश में कल तक 18 वर्ष से अधिक लोंगों को कुल पहली डोज 15,29,66,313 तथा दूसरी डोज 13,01,59,712 दी गयी। उन्होंने बताया कि 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग को कल तक कुल पहली डोज 1,33,25,114 तथा दूसरी डोज 92,30,131 दी गयी है। 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग को कल तक कुल पहली डोज 49,64,573 तथा दूसरी डोज 2,39,846 दी गयी। कल तक 27,55,051 प्रीकॉशन डोज दी गयी है। उन्होंने बताया कि कल तक कुल मिलाकर 31,36,40,740 वैक्सीन की डोज दी गयी है।

उत्तर प्रदेश कृषि अनुसंधान परिषद को नोडल एजेंसी नामित

उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री, श्री सूर्य प्रताप शाही के निर्देश पर प्रदेश में कृषि अनुसंधान, शिक्षा तथा प्रसार कार्यों के सफल संचालन हेतु उत्तर प्रदेश कृषि अनुसंधान परिषद को नोडल एजेंसी नामित किया गया है। अपर मुख्य सचिव कृषि, डॉ0 देवेश चतुर्वेदी द्वारा इस सम्बन्ध में आवश्यक आदेश निर्गत कर दिये गये हैं। अपर मुख्य सचिव कृषि की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश कृषि अनुसंधान परिषद द्वारा नोडल एजेंसी के रूप में कृषि विश्वविद्यालयों को परियोजना व योजनाओं हेतु जारी बजट तथा कृषि विज्ञान केन्द्रों (के0वी0के0) के प्रगति मानक तैयार कर के0वी0के0 के कार्यों का अनुश्रवण किया जायेगा। कृषि विश्वविद्यालय में रिक्त पदों पर भर्ती का अनुश्रवण भी परिषद द्वारा किया जायेगा। जारी शासनादेश के अनुसार कृषि अनुसंधन परिषद द्वारा इसके अतिरिक्त कृषक प्रशिक्षण, प्राकृतिक खेती में योगदान , बीज उत्पादन, विविधीकरण, अवस्थापना का उपयोग तथा प्रत्येक केन्द्रों की कार्ययोजना को अंतिम रूप दिये जाने के आधार पर कृषि विज्ञान केन्द्रों का मूल्यांकन भी किया जायेगा। साथ ही कृषि विश्वविद्यालय के विधिक वादांे तथा मा0 न्यायालय के आदेशों का समय से अनुपालन सुनिश्चित किये जाने सम्बन्धी कार्यों का भी अनुश्रवण कृषि अनुसंधान परिषद द्वारा किया जायेगा।

इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान के लेबर डे पर श्रमिकों को हितलाभ वितरण हेतु आयोजित

अन्तर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस के अवसर पर 01 मई, 2022 को उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड (श्रम विभाग) द्वारा संचालित संत रविदास शिक्षा सहायता योजना के तहत पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के पुत्र व पुत्रियों को साईकिल वितरण एवं अन्य योजनाओं में हितलाभ वितरण कार्यक्रम का आयोजन, लखनऊ स्थित इन्दिरा गाँधी प्रतिष्ठान, गोमतीनगर के मरकरी हॉल में अपरान्ह 2.00 बजे से किया जायेगा। इस अवसर पर प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मन्त्री श्री अनिल राजभर मुख्य अतिथि, श्रम एवं सेवायोजन राज्य मंत्री, श्री मनोहरलाल पंथ ’’मन्नू कोरी’’ विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल होंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता अपर मुख्य सचिव, श्रम एवं सेवायोजन, श्री सुरेश चन्द्रा द्वारा की जाएगी। कार्यक्रम में जनपद के विधायक एवं अन्य गणमान्य विशिष्ट अतिथि भी उपस्थित रहेंगे।

प्रदेश में अब तक 1.28 लाख मीट्रिक टन हुई गेहूँ खरीद

प्रदेश सरकार द्वारा रबी खरीद वर्ष 2022-23 के तहत प्रदेश में खोले गए विभिन्न क्रय केन्द्रों के माध्यम से अब तक 128131.98 मीट्रिक टन गेहूँ की खरीद की गयी है। इसके एवज में किसानों को 159.556 करोड़ रूपये का भुगतान उनके खातों में किया गया है। खाद्य एवं रसद विभाग से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार आज 11126.66 मीट्रिक टन गेहूँ की खरीद हुई है। किसान किसी भी सहायता के लिए टोल फ्री नम्बर 1800-1800-150 या सम्बन्धित जनपद के जिला खाद्य विपणन अधिकारी या ब्लॉक के विपणन निरीक्षक से सम्पर्क कर सकते हैं।

प्रत्येक माह के द्वितीय व चतुर्थ मंगलवार की सायं 06 बजे लम्बित वादों का किया जायेगा निस्तारण

प्राविधिक शिक्षा विभाग में लम्बित वादों का निस्तारण प्राथमिकता पर किया जाय। विभागस्तर पर ही वाद् प्रकरणों का निस्तारण करने की तैयारी की जाये, जिससे कि समय, श्रम और पैसा की बचत हो सके। यह बातें प्रमुख सचिव प्राविधिक शिक्षा श्री अमृत अभिजात अपने लोकभवन स्थित कार्यालय कक्ष मे प्राविधिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक में कही। उन्होंने विशेष सचिव प्राविधिक शिक्षा श्री सुनील कुमार चौधरी को लम्बित वादों का विभागस्तर पर ही निस्तारण के लिए दिन और समय सुनिश्चित करने को कहा।

जिसके क्रम में विशेष सचिव श्री सुनील कुमार चौधरी ने लम्बित वादों के निस्तारण के लिए माह के प्रत्येक द्वितीय तथा चतुर्थ मंगलवार नियत की है। वीडियों क्राफेंसिग के माध्यम से प्रत्येक द्वितीय तथा चतुर्थ मंगलवार की सायं 06 बजे वादों का निस्तारण विभागीय उच्चाधिकारियों की उपस्थिति में किया जायेगा। विशेष सचिव ने बताया कि दिन और समय नियत करने से वादो का निस्तारण विभागस्तर पर ही किये जायेंगे। जिससे प्राविधिक शिक्षा विभाग के लम्बित वादों में कमी आयेंगी। प्रमुख सचिव प्राविधिक शिक्षा श्री अमृत अभिजात ने वादों के निस्तारण के लिए नियुक्त किये जा रहे उच्चाधिकारियों को निर्देश दिये है कि प्रत्येक वाद को गम्भीरता से लिया जाय तथा विभागस्तर पर ही उसे निस्तारित करने का प्रयास किया जाय। उन्होंने कहा कि वादों के निस्तारण के समय वादी का भी पक्ष सुना जाय।

इसे भी पढ़ें: मंदिर की वजह से बंद हो सकता है राजामंडी रेलवे स्टेशन, रेलवे ने जारी किया था नोटिस, जानें पूरा मामला

राजकीय क्रय बढ़ाने के उद्देश्य से मोबाइल क्रय केन्द्रों के माध्यम से होगी गेहूँ खरीद

प्रदेश सरकार द्वारा रबी विपणन वर्ष 2022-23 में गेहूँ के राजकीय क्रय को बढ़ाने के उद्देश्य से मोबाइल क्रय केन्द्रों के माध्यम से गेहूँ खरीद की जाएगी। क्रय केन्द्र प्रभारी द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के उचित दर विक्रेताओं एवं ग्राम प्रधानों से वार्ता की जायेगी तथा जिस ग्राम में ट्रक लोड गेहूँ क्रय की सम्भावना होगी, वहाँ मोबाइल क्रय केन्द्र के माध्यम से पंचायत भवन में गेहूं क्रय किया जायेगा तथा वहीं से क्रय गेहूँ भारतीय खाद्य निगम से सम्बद्ध डिपो पर प्रेषित करेगा। खाद्य एवं रसद विभाग द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार क्रय केन्द्र प्रभारी मोबाइल क्रय केन्द्र के माध्यम से खरीद की तिथि से ग्राम प्रधान एवं सम्बन्धित उचित दर विक्रेता को सूचित करेंगे तथा ग्राम प्रधान  व उचित दर विक्रेता गाँव में स्थित किसानों को मोबाइल टीम के आने की सूचना गांव के किसानों को पूर्व में उपलब्ध करायेंगे। मोबाइल क्रय केन्द्र का संचालन करने वाली टीम सम्बन्धित गाँव के सार्वजनिक स्थल यथा पंचायत भवन, उचित दर विक्रेता की दुकान पर गेहूँ क्रय सम्पादित करेगी। क्रय केन्द्र प्रभारियों के नाम एवं टेलीफोन नम्बर का प्रचार-प्रसार कराया जायेगा, ताकि उत्पादक क्षेत्र के किसान स्वयं केन्द्र प्रभारी से सम्पर्क कर मोबाइल क्रय केन्द्र की सुविधा प्राप्त कर सकें। इसके अलावा मोबाइल क्रय केन्द्र के माध्यम से क्रय हेतु सम्बन्धित ग्राम से भारतीय खाद्य निगम के डिपो तक की वास्तविक दूरी का भुगतान टेन्डर की दरों के अनुसार परिवहन ठेकेदार को किया जायेगा।

राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान अलीगंज लखनऊ में रोजगार मेला

राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान अलीगंज लखनऊ में रोजगार मेला का आयोजन किया जा रहा है। यह मेला 02 मई 2022 दिन सोमवार को प्रातः 09ः30 बजे से आयोजित किया जायेगा। रोजगार मेला के संबंध में जानकारी देते हुए ट्रेनिंग काउन्सलिंग एण्ड प्लेसमेंट आफिसर एम.ए. खां ने बताया कि मेले में इंजीनियरिंग कंपनी एंड ऑटोमोबाइल कंपनी अशोक लिएलंड कम्पनी द्वारा प्रतिभाग किया जायेगा। उन्होंने बताया कि मेले में प्रतिभाग करने की आयुसीमा 18 वर्ष से कम न हो और 32 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। शैक्षिक योग्यता 10वीं कक्षा रखी गयी है। इस मेले में एन.सी.वी.टी./एस.सी.वी.टी. ट्रेड वेल्डर  एण्ड फेब्रिकेशन फिटिंग एंड वेल्डिंग एंड पेंटर से राजकीय अथवा निजी आई.टी.आई. से पास किया हो वे अभ्यर्थी ही कैम्पस में प्रतिभाग कर सकते हैं। विस्तृत जानकारी हेतु प्लेसमेंट अनुभाग लखनऊ के दूरभाष 0522-7118462 पर पूर्वान्ह 09ः00 बजे से शाम 05ः00 बजे तक सम्पर्क कर सकते है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।