ऑल्ट न्यूज़ का दावा- रेज़रपे ने पुलिस के साथ साझा किया डोनर डेटा, पेमेंट गेटवे ने दिया यह जवाब

Mohammad Zubair
प्रतिरूप फोटो
ANI
रेज़रपे ने एक बयान में, ऑल्ट न्यूज़ के विशिष्ट आरोप का उल्लेख किए बिना कहा कि कानून के प्रावधानों के तहत कानूनी अधिकारियों के लिखित आदेश का पालन करना अनिवार्य था। पुलिस के अनुरोध के बाद रेजरपे ने अपने मंच पर ऑल्ट न्यूज़ के खाते को निष्क्रिय कर दिया था और बाद में इसे फिर से चालू कर दिया था।

नयी दिल्ली। फैक्ट-चेकिंग वेबसाइट ऑल्ट न्यूज़ ने मंगलवार को आरोप लगाया कि उसके दानदाताओं संबंधी डेटा को उसकी जानकारी के बिना पेमेंट गेटवे रेजरपे ने पुलिस के साथ साझा किया था। रेज़रपे ने एक बयान में, ऑल्ट न्यूज़ के विशिष्ट आरोप का उल्लेख किए बिना कहा कि कानून के प्रावधानों के तहत कानूनी अधिकारियों के लिखित आदेश का पालन करना अनिवार्य था। पुलिस के अनुरोध के बाद रेजरपे ने अपने मंच पर ऑल्ट न्यूज़ के खाते को निष्क्रिय कर दिया था और बाद में इसे फिर से चालू कर दिया था। 

इसे भी पढ़ें: ऑल्ट न्यूज के सह संस्थापक मोहम्मद जुबैर को सीतापुर लेकर पहुंची पुलिस, हिन्दू संतों पर घृणित टिप्पणी का मामला

ऑल्ट न्यूज़ ने कहा कि दान मंच ने उन्हें सूचित किया था कि कुछ स्पष्टता मिलने के बाद उनका खाता फिर से सक्रिय कर दिया गया था। फैक्ट-चेकिंग वेबसाइट ने कहा, उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया है कि यह स्पष्टता क्या है। इसने आरोप लगाया गया कि रेजरपे ने उसे कोई जानकारी दिए बिना ऑल्ट न्यूज़ के दानदाताओं संबंधी डेटा पुलिस को सौंप दिया था। दिल्ली पुलिस ऑल्ट न्यूज़ को मिले चंदे की जांच कर रही है और इसके सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर को इसने गिरफ्तार कर लिया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़