30 जून से शुरू होगी अमरनाथ यात्रा, दो साल बाद भोलेनाथ के भक्तों को मिली सौगात

30 जून से शुरू होगी अमरनाथ यात्रा, दो साल बाद भोलेनाथ के भक्तों को मिली सौगात

जम्मू-कश्मीर उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने रविवार को श्री अमरनाथ जी श्राइन बोर्ड की बैठक की अध्यक्षता की और कहा कि, इस साल दक्षिण कश्मीर में 3,880 मीटर की ऊंचाई पर स्थित हिमालयी गुफा मंदिर की यात्रा 43 दिन लंबी होगी और परंपरा के अनुसार यह रक्षा बंधन के दिन संपन्न होगी।

भोलेनाथ के भक्तों के लिए बड़ी अच्छी खबर है। दो साल बाद अमरनाथ यात्रा इस साल 30 जून से कोविड -19 प्रोटोकॉल के सख्त पालन के साथ शुरू की जा रही है। जम्मू-कश्मीर उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने रविवार को श्री अमरनाथ जी श्राइन बोर्ड की बैठक की अध्यक्षता की और कहा कि, इस साल दक्षिण कश्मीर में 3,880 मीटर की ऊंचाई पर स्थित हिमालयी गुफा मंदिर की यात्रा 43 दिन लंबी होगी और परंपरा के अनुसार यह रक्षा बंधन के दिन संपन्न होगी।सिन्हा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, आज श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड की बैठक की अध्यक्षता की।

43 दिवसीय पवित्र तीर्थयात्रा 30 जून को सभी कोविड प्रोटोकॉल के साथ शुरू होगी और परंपरा के अनुसार रक्षा बंधन के दिन समाप्त होगी। हमने आगामी यात्रा पर भी विभिन्न मुद्दों पर गहन चर्चा की है।” आपको बता दें कि, अगस्त में अनुच्छेद 370 को निरस्त करने से पहले 2019 में अमरनाथ यात्रा को बीच में ही रद्द कर दिया गया था। पिछले दो वर्षों से कोरोना वायरस महामारी के कारण अमरनाथ यात्रा का आयोजन वर्चुअल ही किया जा रहा है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।