गृह मंत्री अमित शाह और CM धामी ने भारी बारिश से प्रभावित इलाकों का किया हवाई सर्वेक्षण, अबतक 64 की हुई मौत

गृह मंत्री अमित शाह और CM धामी ने भारी बारिश से प्रभावित इलाकों का किया हवाई सर्वेक्षण, अबतक 64 की हुई मौत

उत्तराखंड में लगातार तीन दिन तक हुई बारिश के चलते तबाही का मंजर है। सड़कें, पुल और रेल के ट्रैक भी क्षतिग्रस्त हो गईं और किसानों की फसलों को भी भारी नुकसान हुआ है। इसी बीच गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हवाई सर्वेक्षण किया।

देहरादून। गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को उत्तराखंड में हुई भारी बारिश से प्रभावित क्षेत्रों की स्थिति का जायजा लिया। इस दौरान गृह मंत्री के साथ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी मौजूद रहे। आपको बता दें कि उत्तराखंड में लगातार तीन दिन तक हुई बारिश के चलते तबाही का मंजर है। सड़कें, पुल और रेल के ट्रैक भी क्षतिग्रस्त हो गईं और किसानों की फसलों को भी भारी नुकसान हुआ है। 

इसे भी पढ़ें: उत्तराखंड के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से 300 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित निकाला गया : एनडीआरएफ

अबतक 64 लोगों की हुई मौत

भारी बारिश की वजह से अब तक 64 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा कई लोगों के लापता होने की खबरें भी हैं। वहीं, एनडीआरएफ ने राहत एवं बचाव कार्य के लिए प्रदेश में 17 बचाव दलों की तैनाती की है। एक प्रवक्ता ने जानकारी दी कि एनडीआरएफ के बचावकर्मियों ने अबतक उधम सिंह नगर और नैनीताल से 1,300 से अधिक लोगों को निकाला है। इसके अलावा एनडीआरएफ बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत सामग्री भी वितरित करने का काम कर रही है।

इसे भी पढ़ें: उत्तराखंड में भारी बारिश से लोगों की मौत पर उपराष्ट्रपति ने दुख जताया

107 साल का टूटा रिकॉर्ड

उत्तराखंड में भारी बारिश और फिर बाढ़ जैसे हालातों ने 107 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। सबसे ज्यादा कुमाऊं क्षेत्र की स्थिति खराब दिखाई दी। जहां बारिश ने 107 सल का रिकॉर्ड तोड़ा है। मौसम विभाग ने पहले ही भारी बारिश का अनुमान जताया था, जिसके बाद जिलों को अलर्ट पर रखा गया था।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।