अमित शाह का दावा, बंगाल में भाजपा को मिलेगा प्रचंड बहुमत

By अंकित सिंह | Publish Date: Apr 22 2019 10:19AM
अमित शाह का दावा, बंगाल में भाजपा को मिलेगा प्रचंड बहुमत
Image Source: Google

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ पिछले पांच साल में जीरो टॉलरेंस की नीति को अपनाया है। हमारे संकल्प पत्र में हमने इस नीति को और आगे बढ़ाने का संकल्प किया है।

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकता में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दावा किया है कि बंगाल में भी भाजपा के पक्ष में प्रचंड बहुमत की सूचना मिल रही है। शाह बंगाल के वोटरों से नहीं डरने की बात कहते हुए अपील की कि पूरा गांव एक साथ वोट डालने जाए, आपकी सुरक्षा के लिए सीआपीएफ और भाजपा के कार्यकर्ता लोकतंत्र के प्रहरी बनकर खड़े हैं। शाह ने कहा कि बंगाल में दो चरण के चुनाव के बाद ममता बनर्जी की बौखलाहट स्पष्ट दिख रही है। उन्हें अपनी हार दिख रही है और उसी हताशा से वो अब विपक्ष और चुनाव आयोग पर सवाल उठा रही हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल में वोटबैंक की तुष्टिकरण की राजनीति ने यहां की संस्कृति को नष्ट करने का काम किया है। पुलिस और ब्यूरोक्रेसी ने अपना रोल छोड़कर राजनेताओं का रोल ले लिया है। राजनेता मौन है, बाबू शाही बंगाल के लोकतंत्र को हड़प कर गई। 

भाजपा को जिताए

 
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ पिछले पांच साल में जीरो टॉलरेंस की नीति को अपनाया है। हमारे संकल्प पत्र में हमने इस नीति को और आगे बढ़ाने का संकल्प किया है। लेकिन विपक्षी पार्टियां देश की सुरक्षा के अहम मुद्दे पर चुप दिखाई देती है। शाह ने दावा किया कि देश की सुरक्षा के लिए, देश के अर्थतंत्र की गाड़ी को पटरी पर लाने के लिए कठोर नेतृत्व देना का काम भाजपा ने किया है। उन्होंने कहा कि राष्ट्र की सुरक्षा के लिए भाजपा स्पष्ट नीति लाई है। चाहे आतंकवाद हो, एनआरसी हो, सिटिजन अमेंडमेंट बिल हो, चाहे धारा 370 और 35ए को हटाने की बात हो। इस सभी बातों पर हमने अपने संकल्प पत्र में स्पष्ट नीति अपनाई है। 


साध्वी प्रज्ञा पर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए शाह ने कहा कि हिंदू टेरर के नाम से एक फर्जी केस बनाना गया था, दुनिया में देश की संस्कृति को बदनाम किया गया, कोर्ट में केस चला तो इसे फर्जी पाया गया। सवाल ये है कि स्वामी असीमानंद जी और बाकी लोगों को आरोपी बनाकर फर्जी केस बनाया तो, समझौता एक्सप्रेस में ब्लास्ट करने वाले लोग कहां है, जो लोग पहले पकड़े गए थे, उन्हें क्यों छोड़ा। 
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video