अमित शाह का तंज, हताश कांग्रेस जालसाजी पर कर रही भरोसा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 22, 2019   21:04
अमित शाह का तंज, हताश कांग्रेस जालसाजी पर कर रही भरोसा

इससे पहले कांग्रेस ने मीडिया में आई उन खबरों पर लोकपाल से जांच कराने की मांग की है जिनमें आरोप लगाया गया है कि कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा भाजपा के प्रमुख नेताओं को 1,800 करोड़ रुपये दिये गए।

नयी दिल्ली। भाजपा ने शुक्रवार को कांग्रेस द्वारा उसके नेता बी एस येदियुरप्पा के खिलाफ लगाए गए आरोप को “झूठ” करार दिया और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने जोर देकर कहा कि विपक्षी दल का अभियान खस्ताहाल है और वह हताशा में “जालसाजी” पर भरोसा कर रही है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि येदियुरप्पा पर हमला करने के लिये उनकी पार्टी “कुछ पन्नों” का हवाला दे रही है जो “उतने ही विश्वसनीय हैं जितनी राहुल गांधी की नेतृत्व क्षमता।”

इससे पहले कांग्रेस ने मीडिया में आई उन खबरों पर लोकपाल से जांच कराने की मांग की है जिनमें आरोप लगाया गया है कि कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा भाजपा के प्रमुख नेताओं को 1,800 करोड़ रुपये दिये गए। शाह ने पलटवार करते हुए कहा, “सभी फर्जी मुद्दों के ढहने के बाद हताश कांग्रेस अब जालसाजी पर भरोसा कर रही है। कांग्रेस का अभियान खस्ताहाल है। अब जालसाजी भी उन्हें नहीं बचा सकती। कांग्रेस के एक मंत्री द्वारा दिये गए कुछ पन्ने उतने ही विश्वसनीय और भरोसेमंद हैं जितना राहुल गांधी का नेतृत्व कौशल।”  भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि विपक्षी दल हताश है क्योंकि उसके कई प्रमुख नेता जमानत पर हैं और उसने उनकी पार्टी के नेताओं के खिलाफ झूठ का जाल बुनने बनाने का सहारा लिया है। 

इसे भी पढ़ें: MEA ने कहा, ब्रिटेन से नीरव मोदी के शीघ्र प्रत्यर्पण को लेकर काम कर रहा है भारत

प्रसाद ने कहा, “सुबह से हम बेसब्री से राहुल गांधी के संवाददाता सम्मेलन का इंतजार कर रहे थे। और अगर यह इतना बड़ा खुलासा था,तो उन्होंने व्यक्तिगत रूप से मीडिया को संबोधित क्यों नहीं किया? हताश कांग्रेस ने अपना संतुलन खो दिया है, जिसके कई नेता जमानत पर हैं और अब वह झूठ, गलत बयानी और झूठ का जाल बुनने का सहारा ले रही है।” कांग्रेस को इन चुनावों में हार नजर आने का दावा करते हुए प्रसाद ने कहा कि पार्टी और उसके नेता वैचारिक रूप से दिवालिया हैं। उन्होंने कहा कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बढ़ती लोकप्रियता से हताश हैं और जंग शुरू होने से पहले ही हार चुके हैं। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।