मध्य प्रदेश में दो करोड़ पात्र परिवारों को आयुष्मान कार्ड

  •  दिनेश शुक्ल
  •  जनवरी 25, 2021   23:51
  • Like
मध्य प्रदेश में दो करोड़ पात्र परिवारों को आयुष्मान कार्ड

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि इंदौर जिले ने सर्वाधिक 8 लाख 87 हजार 647, जबलपुर जिले ने 6 लाख 99 हजार 90 और भोपाल जिले ने 6 लाख 68 हजार 500 पात्र परिवारों के आयुष्मान कार्ड बना कर उल्लेखनीय कार्य किया है।

भोपाल। आयुष्मान भारत निरामयम योजना में प्रदेश ने आज रिकार्ड दो करोड़ आयुष्मान कार्ड बनाने की उल्लेखनीय उपलब्धि प्राप्त की। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कार्ड बनाने के अभियान से जुड़े सभी अधिकारियों, कर्मचारियों को इस उल्लेखनीय उपलब्धि पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि सभी पात्र परिवारों के कार्ड बनने तक अभियान जारी रहेगा।

 

इसे भी पढ़ें: इंदौर में भाजपा के प्रदेश पदाधिकारियों की 30 और 31 को कामकाजी बैठक

मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मंशानुसार, आत्म-निर्भर मध्य प्रदेश के रोड मैप पर बढ़ते हुए आयुष्मान योजना में  दो करोड़ कार्ड बनाने की उल्लेखनीय उपलब्धि विभाग ने प्राप्त की है।  उन्होंने कहा कि  प्रदेश के सभी जिलों में आयुष्मान योजना में पात्रता रखने वाले परिवारों के कार्ड बनाने के अभियान   में उल्लेखनीय योगदान  पर  सभी जिलों के कलेक्टर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को और अन्य अधिकारियों, कर्मचारियों को  बधाई दी।

 

इसे भी पढ़ें: स्व. राजमाता के रास्ते पर चलकर महिलाओं को सशक्त बनाएं, यही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि  इंदौर जिले  ने सर्वाधिक  8 लाख 87 हजार 647, जबलपुर जिले ने 6 लाख 99 हजार 90 और भोपाल जिले ने 6 लाख 68 हजार 500   पात्र परिवारों के आयुष्मान कार्ड बना कर  उल्लेखनीय  कार्य किया है। उन्होंने  कहा कि कार्ड बनाने का कार्य नवम्बर 2020 से अभियान के रूप में चलाया जा रहा है। इसके पूर्व  लगभग एक करोड़ 40 लाख कार्ड बनाए गए थे। अभियान अन्तर्गत दो माह 25 दिन में लगभग  60 लाख कार्ड बनाए गए। यह अभियान आगे भी जारी रहेगा। आयुष्मान कार्ड धारकों को योजना में चिन्हित आधुनिक चिकित्सा सुविधाओं से युक्त निजी और शासकीय अस्पतालों में निशुल्क उपचार की सुविधा भी मिल रही।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


मध्य प्रदेश के सिवनी में शोरूम से दो कार चोरी, पुलिस जांच में जुटी

  •  दिनेश शुक्ल
  •  मार्च 4, 2021   14:51
  • Like
मध्य प्रदेश के सिवनी में शोरूम से दो कार चोरी, पुलिस जांच में जुटी

चुराई गई दो कारों में से एक कार लूघरवाडा स्थित शराब दुकान के पीछे पायी गई है तो वहीं दूसरी कार को चोर लेकर भाग गये। घटना की जानकारी लगते ही सिवनी पुलिस अग्रिम कार्यवाही में जुटी है।

सिवनी। मध्य प्रदेस के सिवनी जिला मुख्यालय से जबलपुर जाने वाले मार्ग पर ज्यारत नाका के पास स्थित एक कार शो रूम से बुधवार-गुरूवार की दरम्यिानी रात्रि को अज्ञात चोर शोरूम की शटर तोडकर दो कार चुराकर ले गये है। 

 

इसे भी पढ़ें: श्री सिंगाजी ताप विद्युत परियोजना को लेकर पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने फिर उठाई आवाज, विधानसभा में नियम 52 के तहत चर्चा की माँग

जानकारी के अनुसार अभिषेक हुंडई के कार शोरूम से बुधवार-गुरूवार की दरम्यिानी रात चोरों ने दो कार चुराकर भाग गए। चुराई गई दो कारों में से एक कार लूघरवाडा स्थित शराब दुकान के पीछे पायी गई है तो वहीं दूसरी कार को चोर लेकर भाग गये। घटना की जानकारी लगते ही सिवनी पुलिस अग्रिम कार्यवाही में जुटी है। पुलिस शोरूम और आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के जरिए चोरों की तलाश में जुटी है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


BKU प्रवक्ता राकेश टिकैत का दावा, किसानों के समर्थन में भाजपा का एक सांसद देगा इस्तीफा

  •  अनुराग गुप्ता
  •  मार्च 4, 2021   14:44
  • Like
BKU प्रवक्ता राकेश टिकैत का दावा, किसानों के समर्थन में भाजपा का एक सांसद देगा इस्तीफा

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के इस बयान के बाद सियासी गलियारों में कयास लगाए जाने लगे कि किसानों के समर्थन में पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पंजाब या फिर हरियाणा का कोई भाजपा सांसद इस्तीफा दे सकता है।

नयी दिल्ली। केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन तीन महीने से जारी है। इसी बीच भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कुछ ऐसा कहा, जिससे हड़कंप मच गया। दरअसल, किसान नेता राकेश टिकैत ने दावा किया किसान आंदोलन के समर्थन में इसी महीने भारतीय जनता पार्टी के एक सांसद इस्तीफा देने वाले हैं। लेकिन यह सांसद कौन हैं, इसका जवाब राकेश टिकैत ने नहीं दिया। 

इसे भी पढ़ें: राकेश टिकैत का आरोप, सरकार की ‘खामोशी’ किसानों के आंदोलन के खिलाफ कदम का इशारा 

राकेश टिकैत के इस बयान के बाद सियासी गलियारों में कयास लगाए जाने लगे कि किसानों के समर्थन में पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पंजाब या फिर हरियाणा का कोई भाजपा सांसद इस्तीफा दे सकता है। लेकिन इस बात में कितनी सच्चाई है यह तो भाजपा सांसद द्वारा इस्तीफा दिए जाने के बाद ही पता चलेगी।

कब तक चलेगा आंदोलन ?

एक हिन्दी न्यूज चैनल के साथ बातचीत में किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि भाजपा के पास जितने सांसद हैं, उतने दिनों तक किसानों का आंदोलन जारी रहेगा। जिसका मतलब साफ है किसानों का आंदोलन अभी तो समाप्त नहीं होने वाला है। किसान नेताओं की मांग है कि केंद्र तीनों कृषि कानूनों को वापस लें और न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) कानून बनाएं। लेकिन केंद्र सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि वह कानूनों को वापस नहीं लेने वाले हैं। 

इसे भी पढ़ें: कृषि कानून वापस होने तक आंदोलन जारी रहेगा: राकेश टिकैत 

वहीं, समाचार एजेंसी एएनआई के साथ बातचीत में राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक सरकार बात नहीं मानेगी, आंदोलन ऐसे ही चलता रहेगा। सरकार से अभी बातचीत की कोई गुंजाइश नहीं है, तैयारी लंबी है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


क्या OTT प्लेटफॉर्म दिखा रही है अश्लील सामग्री? सुप्रीम कोर्ट ने उठाए सवाल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 4, 2021   14:39
  • Like
क्या OTT प्लेटफॉर्म दिखा रही है अश्लील सामग्री? सुप्रीम कोर्ट ने उठाए सवाल

उच्चतम न्यायालय ने कहा कि, कुछ ओटीटी प्लेटफॉर्म कई बार अश्लील सामग्री प्रसारित करते हैं।इसी दिन अमेजन प्राइम की इंडिया प्रमुख अर्पणा पुरोहित की याचिका पर भी सुनवाई की जाएगी। पीठ ने कहा, ‘‘संतुलन कायम करने की आवश्यकता है क्योंकि कुछ ओटीटी प्लेटफॉर्म पर अश्लील सामग्री भी दिखाई जा रही है।

नयी दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने बृहस्पतिवार को कहा कि ‘ओवर दी टॉप (ओटीटी) प्लेटफॉर्म’ पर कई बार किसी न किसी तरह की अश्लील सामग्री दिखाई जाती है और इस तरह के कार्यक्रमों पर नजर रखने के लिए एक तंत्र की आवश्यकता है। न्यायमूर्ति अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली पीठ ने सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता से कहा कि वह सोशल मीडिया के नियमन संबंधी सरकार के हालिया दिशा-निर्देशों के बारे में शुक्रवार को जानकारी दें।

इसे भी पढ़ें: गर्मी का मौसम आया, किसानों ने टेंट में पंखे और फ्रिज मंगवाया

इसी दिन अमेजन प्राइम की इंडिया प्रमुख अर्पणा पुरोहित की याचिका पर भी सुनवाई की जाएगी। पीठ ने कहा, ‘‘संतुलन कायम करने की आवश्यकता है क्योंकि कुछ ओटीटी प्लेटफॉर्म पर अश्लील सामग्री भी दिखाई जा रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept