Bageshwar Dham Sarkar ने फिल्मों के बॉयकॉट, नागपुर विवाद और धर्मांतरण पर सवालों के दिये मजेदार जवाब

Bageshwar Dham
ANI
Neeraj Kumar Dubey । Jan 19, 2023 1:02PM
बागेश्वर सरकार ने एक सवाल के जवाब में कहा कि धर्मांतरण को रोकने के लिए ही बागेश्वर धाम आदिवासी इलाकों में तीन दिन की कथा का आयोजन कर रहा है। उन्होंने कहा कि धर्मांतरण एक बड़ी साजिश है और हम इसे विफल करके रहेंगे।

सोशल मीडिया पर बागेश्वर सरकार के नाम से सुर्खियां बटोर रहे पंडित धर्मेंद्र कृष्ण शास्त्री अपने बयानों और कथा कहने के अंदाज को लेकर विवादों में बने हुए हैं। कोई कहता है कि उनकी भाषा सही नहीं है तो कोई कहता है कि वह अंधविश्वास फैला रहे हैं। लेकिन आरोपों से बेपरवाह बागेश्वर सरकार खुलकर विभिन्न मुद्दों पर बयान दे रहे हैं। इन दिनों छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में कथा सुना रहे बागेश्वर सरकार ने प्रेस वार्ता आयोजित कर विभिन्न सवालों के चटपटे जवाब दिये। हिंदी फिल्मों में हिंदू धर्म से जुड़े लोगों की भावनाएं कथित रूप से आहत करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मूवी बनाने वालों के बाप में दम है तो जरा दूसरे धर्म के ऊपर फिल्म बनाकर दिखाएं। उन्होंने कहा कि अब हिंदू जाग रहा है इसलिए ऐसे लोगों को भारत में रहना मुश्किल हो जाएगा। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को सबक सिखाने का सबसे अच्छा तरीका उनकी फिल्मों का बॉयकॉट करना है।

बागेश्वर सरकार ने एक सवाल के जवाब में कहा कि धर्मांतरण को रोकने के लिए ही बागेश्वर धाम आदिवासी इलाकों में तीन दिन की कथा का आयोजन कर रहा है। उन्होंने कहा कि धर्मांतरण एक बड़ी साजिश है और हम इसे विफल करके रहेंगे। बागेश्वर सरकार ने कहा कि जो लोग धर्मांतरण कराने का प्रयास कर रहे हैं उनके खिलाफ अभियान चलाया जायेगा।

महाराष्ट्र में चुनौती को स्वीकार नहीं करने और भाग जाने के आरोप पर पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने कहा कि सनातन धर्म पर निशाना साधने के लिए सोची समझी साजिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि जब हमने दिव्य दरबार लगाया था तब वे क्यों नहीं आये थे? उन्होंने आरोप लगाने वालों को छोटी मानसिकता वाला बताते हुए कहा कि हमें बदनाम करने की कोशिशें सफल नहीं होंगी।

हम आपको बता दें कि महाराष्ट्र की एक संस्था अंध विश्वास उन्मूलन समिति ने नागपुर में बागेश्वर सरकार के कार्यक्रम के दौरान चुनौती दी थी कि बाबा अपनी शक्तियों को सबके सामने साबित करें। जिसके बाद कहा गया कि बागेश्वर सरकार नागपुर का कार्यक्रम छोड़कर भाग आये थे। इसको लेकर अंध विश्वास उन्मूलन समिति ने पुलिस में मामला दर्ज कराने की बात कही है। इन आरोपों पर बागेश्वर सरकार ने कहा है कि उनका नागपुर में उतने ही दिन का कार्यक्रम तय था इसलिए वह लौटकर आये हैं ना कि भागकर आये हैं। उन्होंने अपने ही अंदाज में समिति से जुड़े लोगों पर जोरदार हमला बोला।

अन्य न्यूज़