बाहुबली विधायक विजय मिश्रा ने यूपी सरकार को बताया ब्राह्मण विरोधी, भगवान राम पर भी की विवादित टिप्पणी

बाहुबली विधायक विजय मिश्रा ने यूपी सरकार को बताया ब्राह्मण विरोधी, भगवान राम पर भी की विवादित टिप्पणी

विजय मिश्रा ने कहा कि मैंने गलत का हमेशा विरोध किया है और किसी का भी पैसा नहीं लिया, ना खाया है। उन्होंने यह भी कहा कि अमित शाह ने आईबी से डेढ़ साल पहले जांच कराई थी। मेरे ऊपर किसी भी प्रकार की कोई देनदारी नहीं है और ना रंगबाजी, गुंडा टैक्स संबंधित कोई अपराधिक मुकदमा है।

उत्तर प्रदेश के भदोही से बाहुबली विधायक विजय मिश्रा ने योगी आदित्यनाथ की नेतृत्व वाली सरकार को लेकर बड़ा बयान दिया है। विजय मिश्रा ने योगी सरकार को ब्राह्मण विरोधी करार दिया। इसके साथ ही भगवान राम को लेकर भी विवादित बयान दे दिया। विजय मिश्रा ने कहा कि भगवान राम क्षत्रिय नहीं बल्कि विष्णु के स्वरूप है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जब रावण ने जाना कि दशरथ के पुत्र उनको मारेंगे तो उसने राजा दशरथ को नपुंसक बना दिया। विजय मिश्रा ने भाजपा पर प्रहार करते हुए कहा कि राम किसी पार्टी के एजेंट नहीं है। राम ने भी कहा था कि जिसको कोई नहीं मार सकता है उसे ब्राह्मण के श्राप से भस्म किया जा सकता है। 

दरअसल, बाहुबली विधायक वाराणसी सिविल जज जूनियर डिविजन सेकंड की कोर्ट में पेशी में पहुंचे थे। विजय मिश्रा दुष्कर्म पीड़िता को धमकाने और घर में घुसकर मारपीट के मामले में जैतपुरा थाने में दर्ज मुकदमे को लेकर कोर्ट में पेश हुए थे। कड़ी सुरक्षा में उन्हें आगरा जेल से वाराणसी लाया गया था। इसी दौरान उन्होंने कुछ मीडिया कर्मियों से बातचीत की अपने बातचीत में विजय मिश्रा ने कहा कि उनको और उनके पूरे परिवार को झूठे मुकदमे में फंसाया गया है। सरकार भयमुक्त समाज का दावा करती हैं और इसे दिखाने के लिए वह कुछ ना कुछ करेगी। मैं किसी भी सरकार के सामने घुटने टेकने वाला नहीं हूं। इसके लिए भले ही मेरी गर्दन काट ली जाए।

विजय मिश्रा ने कहा कि मैंने गलत का हमेशा विरोध किया है और किसी का भी पैसा नहीं लिया, ना खाया है। उन्होंने यह भी कहा कि अमित शाह ने आईबी से डेढ़ साल पहले जांच कराई थी। मेरे ऊपर किसी भी प्रकार की कोई देनदारी नहीं है और ना रंगबाजी, गुंडा टैक्स संबंधित कोई अपराधिक मुकदमा है। सरकार चाहती है कि मैं चुनाव ना लड़ू इसलिए मुझे झूठे केस में फसाया जा रहा है और मेरे बेटे को आतंकवादी बताया जा रहा है। उन्होंने दावा किया कि मैं अपना पूरा संपत्ति ब्यौरा देने को तैयार हूं। उन्होंने कहा कि गलत का विरोध में अंतिम सांस तक करूंगा। इसके साथ ही उन्होंने पूछा कि हिंदू राष्ट्र और हिंदू युवा वाहिनी कहां से पनपती है? हिंदुओं को मारकर आप हिंदू राष्ट्र नहीं बना सकते। उन्होंने दावा किया कि विज्ञान दुबे को मार दिया गया। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।