बीजेपी नेता ने अपनी ही सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन, कांग्रेस ने ली चुटकी

बीजेपी नेता ने अपनी ही सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन, कांग्रेस ने ली चुटकी

गुप्ता ने आरोप लगाते हुए कहा कि अतिक्रमण हटाने के लिए भेदभाव पूर्ण कार्रवाही की गई है। पूर्व मंत्री ने प्रदर्शन स्थल पर मौजूद एसडीएम, सीएसपी और नगर निगम के अधिकारियों को अल्टीमेटम दिया है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को ये समझना चाहिए कि ये सरकार हमारी है।

भोपाल। राजधानी भोपाल में अतिक्रमण हटाने के लिए धरना दे रहे  पूर्व गृह मंत्री और पूर्व विधायक उमाशंकर गुप्ता अधिकारियों पर बिफर गए। जिसका वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। उमाशंकर गुप्ता ने कहा कि हमारी ही सरकार में हमें धरने पर बैठना पड़ रहा है। आप लोग चुल्लूभर पानी में डूब मरो।

दरअसल उमाशंकर गुप्ता लिंक रोड नंबर 2 में प्रदर्शनी नगर पर हुए अतिक्रमण को हटवाने गए थे। इस दौरान उन्होंने अपने समर्थकों के साथ धरना भी दिया। जहां अधिकारियों को फटकार लगाते हुए प कहा कि समझ में नहीं आता कि पैसा चल रहा है या दवाब चल रहा है। आप लोगों को समझ में नहीं आ रहा है कि बीजेपी की सरकार है। चुल्लूभर पानी में डूब मरो आप लोग। हमारी ही सरकार में हमे धरना देना पड़ रहा है।

इसे भी पढ़ें:व्यापम का घेराव करने पहुंची युवा कांग्रेस, पुलिस ने अध्यक्ष समेत कई कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तार 

वहीं गुप्ता ने आरोप लगाते हुए कहा कि अतिक्रमण हटाने के लिए भेदभाव पूर्ण कार्रवाही की गई है। पूर्व मंत्री ने प्रदर्शन स्थल पर मौजूद एसडीएम, सीएसपी और नगर निगम के अधिकारियों को अल्टीमेटम दिया है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को ये समझना चाहिए कि ये सरकार हमारी है।

इधर कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा ने उमाशंकर गुप्ता पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि उमाशंकर गुप्ता पहले खुद गरीबों का रोजगार छीनते पर थे और अब उनके लिए आवाज उठा रहे हैं। 15 साल गृह मंत्री रहे तब कानून व्यवस्था ध्यान नहीं आई और अब इनकों आवाज उठानी है। इन सब की आपस की लड़ाई है टिकट की चाह में एक दूसरे से लड़ते हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...