मुजफ्फरनगर में भाजपा विधायक को ग्रामीणों ने खदेड़ा, हाथ जोड़कर गांव से निकले विक्रम सैनी

मुजफ्फरनगर में भाजपा विधायक को ग्रामीणों ने खदेड़ा, हाथ जोड़कर गांव से निकले विक्रम सैनी
प्रतिरूप फोटो

भाजपा उम्मीदवार विक्रम सैनी खतौली विधानसभा के अंतर्गत आने वाले मनव्वरपुर गांव में बुधवार को एक बैठक के लिए पहुंचे थे। लेकिन यहां पर उन्हें ग्रामीणों का विरोध सहना पड़ा। जिसके बाद उन्होंने वहां से जाना ही ठीक समझा। इससे जुड़ा हुआ एक वीडियो भी वायरल हो रहा है।

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राजनीतिक दलों की सक्रियता बढ़ गई है। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में सात चरणों में मतदान होने वाला है और पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को होगा। पहले चरण में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। इसी बावत राजनीतिक दलों के नेता मतदाताओं को लुभाने की जुगत में लगे हुए हैं। इसी क्रम में खतौली विधानसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार विक्रम सैनी भी प्रचार-प्रसार कर रहे हैं लेकिन उनकी मुश्किलें उस वक्त बढ़ गईं जब उन्हें ग्रामीणों के विरोध का सामना करना पड़ा। 

इसे भी पढ़ें: भई गजब की राजनीति है पश्चिमी उत्तर प्रदेश की ! किसानों के दबदबे वाली सीट से ही चुनाव हार गए थे राकेश टिकैत 

भाजपा उम्मीदवार विक्रम सैनी खतौली विधानसभा के अंतर्गत आने वाले मनव्वरपुर गांव में बुधवार को एक बैठक के लिए पहुंचे थे। लेकिन यहां पर उन्हें ग्रामीणों का विरोध सहना पड़ा। जिसके बाद उन्होंने वहां से जाना ही ठीक समझा। इससे जुड़ा हुआ एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। वीडियो में साफ-साफ देखा जा सकता है कि ग्रामीणों ने भाजपा उम्मीदवार को घेर लिया है। जिसके बाद भाजपा उम्मीदवार अपनी गाड़ी में बैठकर वापस चले गए। इस दौरान उन्होंने गाड़ी में बैठने के साथ ही ग्रामीणों से हाथ भी जोड़ा। 

इसे भी पढ़ें: किसके साथ जाएंगे उत्तर प्रदेश के किसान, वोट के लिए नेता लगा रहे परिक्रमा 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मनव्वरपुर गांव की घटना को लेकर भाजपा उम्मीदवार ने बताया कि गांव में सैनी समाज की एक बैठक में हिस्सा लेने गए थे। लेकन वहां उन्हें ग्रामीणों के विरोध का सामना करना पड़ा। वायरल हो रहे वीडियो में ग्रामीणों ने एक बात बार-बार दोहराई कि विधायक जी इस बार विधायक बनकर दिखा दीजिए।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।