BJYM अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या तिरंगा यात्रा लेकर पहुँचे करगिल, युद्ध स्मारक पर शहीदों को दी श्रद्धांजलि

bjym tiranga yatra
Prabhasakshi
हम आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में अनुच्छेद 370 के निरस्त होने और जम्मू-कश्मीर के पूर्ण संवैधानिक एकीकरण के बाद से कश्मीर में यह एक ऐतिहासिक और सबसे बड़ा राजनीतिक आयोजन है।

करगिल। आज पूरा देश करगिल विजय दिवस मना रहा है। भारतीय जनता युवा मोर्चा के नेता भी आज के दिन को खास अंदाज में मना रहे हैं। एक दिन पहले श्रीनगर से शुरू हुई युवा मोर्चा की तिरंगा यात्रा का बाइक पर नेतृत्व करते हुए सांसद और भाजपा युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या समेत पार्टी के कार्यकर्ता आज करगिल पहुँचे। इसके बाद युवा मोर्चा के नेताओं ने करगिल युद्ध स्मारक पर शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि दी और आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर 75 मीटर लंबे भारतीय राष्ट्रीय ध्वज को भी फहराया। भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ता अपने-अपने राज्यों से शहीदों के घरों के आंगन से मिट्टी भी साथ लाये थे जिसे शहीदों की अमरता के प्रतीकात्मक संकेत के रूप में युद्ध स्मारक पर समर्पित किया गया। इस अवसर पर तेजस्वी सूर्या ने कहा कि शहीदों के सर्वोच्च बलिदान को सदैव याद रखेगा हिंदुस्तान। उन्होंने स्थानीय पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ तस्वीरें भी खिंचवाईं।

इसे भी पढ़ें: ऑपरेशन विजय की सफलता के लिए हमारे कई जवानों ने दिया था सर्वोच्च बलिदान

हम आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में अनुच्छेद 370 के निरस्त होने और जम्मू-कश्मीर के पूर्ण संवैधानिक एकीकरण के बाद से कश्मीर में यह एक ऐतिहासिक और सबसे बड़ा राजनीतिक आयोजन है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य है कि भारतीय सेना की वीरता का जश्न मनाते हुए एकता का संदेश सम्पूर्ण भारत वर्ष में पहुँचाया जाये। हम आपको बता दें कि सोमवार को तेजस्वी सूर्या ने लाल चौक से कारगिल युद्ध स्मारक तक पहली तिरंगा बाइक रैली को हरी झंडी दिखाई थी और कहा था कि अनुच्छेद 370 भारत के साथ जम्मू-कश्मीर के पूर्ण एकीकरण की राह में न केवल संवैधानिक, बल्कि सांस्कृतिक और मनोवैज्ञानिक अवरोध भी था। तेजस्वी सूर्या ने ऐतिहासिक ‘घंटा घर’ पर आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद कश्मीर में विकास हुआ है और घाटी में आतंकवाद अब खत्म हो चुका है। भाजपा नेताओं के संबोधन के बाद जब प्रभासाक्षी संवाददाता ने वहां उपस्थित लोगों और पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत की तो सभी ने कहा कि कश्मीर की फिजां अब पूरी तरह बदल चुकी है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़