गुजरात तट के पास नौकाएं डूबी, एक मछुआरे की मौत, सात लापता

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 3, 2021   09:28
गुजरात तट के पास नौकाएं डूबी, एक मछुआरे की मौत, सात लापता

जिलाधिकारी ने बताया कि कम से कम पांच नौकाएं पूरी तरह से नष्ट हो गईं, पांच पलट गईं और लगभग 40 अन्य आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गईं। उन्होंने बताया कि शुरू में 12 मछुआरे लापता हुए थे लेकिन उनमें से चार तैरकर किनारे पर आ गए थे।

ऊना (गुजरात)|  गुजरात में गिर सोमनाथ जिले के ऊना तहसील में रात में तूफानी मौसम के बीच समुद्र तट के पास लगी नौकाओं के डूब जाने के बाद एक मछुआरे का शव मिला है और सात अन्य अब भी लापता हैं।

जिलाधिकारी आर जी गोहिल ने बताया कि तटरक्षक बल रात के दौरान अपनी नौकाओं के जरिए तलाशी अभियान जारी रखेगा। उन्होंने बताया कि बृहस्पतिवार तड़के तटरक्षक बल के हेलीकॉप्टर की मदद से बचाव अभियान शुरू किया गया था। उन्होंने बताया कि बाद में तटरक्षक बल की दो नौकाएं और एक डोर्नियर विमान भी तलाशी अभियान में शामिल हुए।

इसे भी पढ़ें: अगले साल की शुरुआत में होगी 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी : डॉट सचिव

नवाबंदर के सरपंच सोमवर मजीठिया के अनुसार, जब मौसम में अचानक आए बदलाव के बाद आधी रात के आसपास तेज हवाएं चलीं और ऊंची लहरें उठने लगीं, उस वक्त मछुआरे तट के पास लगी हुई नौकाओं में सो रहे थे।

जिलाधिकारी ने बताया कि कम से कम पांच नौकाएं पूरी तरह से नष्ट हो गईं, पांच पलट गईं और लगभग 40 अन्य आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गईं। उन्होंने बताया कि शुरू में 12 मछुआरे लापता हुए थे लेकिन उनमें से चार तैरकर किनारे पर आ गए थे।

इसे भी पढ़ें: मानवीय आधार पर अफगानिस्तान को गेहूं भेजने के भारत के प्रस्ताव को पाक ने ठुकराया : रिपोर्ट

उन्होंने बताया कि एक मछुआरे का शव दोपहर में तट के पास मिला जबकि सात अन्य अब भी लापता हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।