अवैध तरीके से सीमा पार करने के आरोप में BSF ने पांच बांग्लादेशियों और 12 भारतीयों को पकड़ा

BSF
सीमा सुरक्षा बल ने शुक्रवार को जारी बयान में बताया कि पांच बांग्लादेशी और 12 भारतीयों को बृहस्पतिवार को गैर कानूनी तरीके से नदिया जिले की रामनगर चौकी के पास सीमा पार करने के आरोप में पकड़ा गया, जिनमें एक दलाल भी शामिल है।

कोलकाता। सीमा सुरक्षा बल ने पश्चिम बंगाल के नदिया जिले में अवैध तरीके से भारत-बांग्लादेश सीमा पार करने के आरोप में पांच बांग्लादेशियों और 12 भारतीयों को पकड़ा है। अर्धसैनिक बल ने एक बयान जारी कर यह जानकारी दी। बल ने शुक्रवार को जारी बयान में बताया कि पांच बांग्लादेशी और 12 भारतीयों को बृहस्पतिवार को गैर कानूनी तरीके से नदिया जिले की रामनगर चौकी के पास सीमा पार करने के आरोप में पकड़ा गया, जिनमें एक दलाल भी शामिल है। बयान के मुताबिक, पकड़े गए भारतीयों ने स्वीकार किया कि उन्होंने बांग्लादेश में अपने रिश्तेदारों से मिलने के लिए बेनापोल में सीमा पार की थी और वे अब वापस लौट रहे थे। 

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल में बनेगा भारत का पहला 'टायर पार्क', कचरे को कला में किया जाएगा तब्दील !

बल ने बताया कि पकड़े गए बांग्लादेशियों ने बताया कि वे मजदूरी करने के लिए बेंगलुरु जा रहे थे। बीएसएफ ने बताया कि पकड़े गए सभी लोगों को हंसखली थाने की पुलिस को सौंप दिया गया है। इस बीच, बीएसएफ ने बृहस्पतिवार को ही खासमहल चौकी के पास गश्त के दौरान एक भारतीय को पकड़ा और उसके 10 मवेशियों को कब्जे में ले लिया। बीएसएफ के मुताबिक, आरोपी कुछ और लोगों के साथ मिलकर इन मवेशियों को तस्करी करके बांग्लादेश ले जाने का प्रयास कर रहा था। तस्करों के समूह के अन्य लोग भाग गए और पकड़े गए व्यक्ति को स्थानीय पुलिस को सौंप दिया गया है। उन्होंने बताया कि जिन मवेशियों को कब्जे में लिया गया है, उनकी स्थानीय बाजार में 2,25,230 रुपये कीमत है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़