बसपा सुप्रीमो मायावती 2 फरवरी को आगरा में जनसभा को करेंगी संबोधित

mayawati
बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती दो फरवरी को आगरा में पहली चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगी।जनसभा का समय एवं स्थान तथा आगामी जनसभाओं की सूचना मीडिया बंधुओ को शीघ्र उपलब्ध कराई जाएगी।

लखनऊ।बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती दो फरवरी को आगरा में एक जनसभा कर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के प्रचार अभियान की औपचारिक शुरुआत करेंगी। पार्टी महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने एक ट्वीट में कहा कि बसपा अध्यक्ष दो फरवरी को आगरा में कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करते हुए एक जनसभा को संबोधित करेंगी। मिश्रा ने ट्विटर पर लिखा, अवगत कराना हैं कि दो फरवरी को बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती आगरा में कोविड नियमों का पालन करते हुए जनसभा को संबोधित करेंगी।

इसे भी पढ़ें: योगी और मोदी की जोड़ी ने प्राचीनता को ध्यान रख बदला काशी का स्वरूप

जनसभा का समय एवं स्थान तथा आगामी जनसभाओं की सूचना मीडिया बंधुओ को शीघ्र उपलब्ध कराई जाएगी। उल्लेखनीय है कि चुनाव के दौरान जनता के बीच बसपा सुप्रीमो की लगभग अनुपस्थिति पर भी उनके राजनीतिक विरोधियों द्वारा सवाल उठाए जा रहे थे। बसपा सूत्रों के अनुसार वह लगातार अपने आवास पर पार्टी के नेताओं और पदाधिकारियों और राज्य भर के बूथों के प्रभारियों से मिल रही हैं, लेकिन चुनाव आयोग द्वारा रैलियों पर प्रतिबंध लगाये जाने से पहले, कोरोनोवायरस संक्रमण की बढ़ती संख्या का हवाला देते हुए उन्होंने किसी भी जनसभा को संबोधित नहीं किया।

इसे भी पढ़ें: मोहम्मद मुस्तफा पर देश द्रोह का मामला दर्ज कर गिरफ्तार करने की मांग

मायावती ने पिछली बार अक्टूबर में लखनऊ में और इससे पहले सितंबर में राज्य में अपनी पार्टी के प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलनों की समाप्त पर एक जनसभा को संबोधित किया था। बसपा ने 2017 के विधानसभा चुनावों में 19 सीटें जीती थीं, लेकिन उसके कम से कम एक दर्जन बसपा विधायकों ने या तो अपनी निष्ठा बदल ली या उन्हें पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में निष्कासित कर दिया गया। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राम अचल राजभर और बसपा विधायक दल के नेता लालजी वर्मा जैसे वरिष्ठ नेता, कभी मायावती के करीबी विश्वासपात्र थे, वे अब अन्य दलों में चले गये हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़