AMU में गणतंत्र दिवस समारोह के बाद मजहबी नारा लगाने वाले छात्र पर मुकदमा

AMU
प्रतिरूप फोटो
ANI

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी परिसर में गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान मजहबी नारा लगाने का मामला सामने आया था। इस मामले के सामने आने के बाद आरोप में स्नातक के एक छात्र के खिलाफ शनिवार को मुकदमा दर्ज किया गया है। इसके सोशल मीडिया पर वीडियो भी वायरल हुए थे।

अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) परिसर में गणतंत्र दिवस के जश्न के बाद मजहबी नारा लगाने के आरोप में स्नातक के एक छात्र के खिलाफ शनिवार को मुकदमा दर्ज किया गया। एक पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी। अपर पुलिस अधीक्षक (नगर) कुलदीप सिंह गुणावत ने बताया कि बृहस्पतिवार शाम सोशल मीडिया पर दो वीडियो वायरल हुए थे, जिनमें दो अलग-अलग समूहों में शामिल युवा ‘भारत माता की जय’ और ‘अल्लाहु अकबर’ के नारे लगाते दिख रहे हैं। यह घटना एएमयू में गणतंत्र दिवस समारोह के फौरन बाद की बताई जाती है। गुणावत के मुताबिक, मामले में बन्ना देवी क्षेत्र के रहने वाले योगेश वार्ष्णेय नामक व्यक्ति ने एएमयू में बीए प्रथम वर्ष के छात्र वहीदउज्जमां के खिलाफ ‘राष्ट्र विरोधी नारेबाजी’ करने के आरोप में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 153-ख (राष्ट्रीय अखंडता पर प्रतिकूल प्रभाव डालने वाले लांछन प्राख्यान) और 505 (विभिन्न वर्गों के बीच शत्रुता, घृणा या दुर्भावना पैदा करने के इरादे से झूठा बयान) के तहत मुकदमा दर्ज कराया है। गुणवत्ता के अनुसार, वीडियो की प्रामाणिकता जांचने के लिए उनकी फॉरेंसिक जांच भी कराई जा रही है। इस बीच, एएमयू के प्रॉक्टर मोहम्मद वसीम ने बताया कि वीडियो वायरल होने के बाद आरोपी छात्र को निलंबित कर दिया गया है और मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति का गठन किया गया है। विश्वविद्यालय के एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस बात की भी जांच की जा रही है कि आखिर यह नारेबाजी क्यों हुई। इससे पहले, अलीगढ़ से भाजपा सांसद सतीश गौतम ने पुलिस से इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने की मांग की थी।
डिस्क्लेमर: प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


We're now on WhatsApp. Click to join.
All the updates here:

अन्य न्यूज़