मध्य प्रदेश में तीन दिसंबर के बाद मौसम में होगा बदलाव, कम हुई हवाओं की रफ्तार, ठंड से मिली राहत

  •  दिनेश शुक्ल
  •  नवंबर 30, 2020   19:56
  • Like
मध्य प्रदेश में तीन दिसंबर के बाद मौसम में होगा बदलाव, कम हुई हवाओं की रफ्तार, ठंड से मिली राहत

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने बताया कि एक पश्चिमी विक्षोभ वर्तमान में ईरान पर है। इसके तीन दिसंबर के आसपास उत्तर भारत में पहुंचने की संभावना है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है।

भोपाल। चक्रवाती तूफान निवार के समाप्त होने से प्रदेश में हवाओं की रफ्तार अब कम हो गई है। उधर, मौसम प्रणाली के प्रदेश और आस पास सक्रिय नहीं रहने से वातावरण शुष्क हो गया है। इससे रात के तापमान में अब और गिरावट होने के आसार बढ़ गए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक हवा का रुख उत्तरी बना रहने से दो-तीन दिन तक ठंड के तेवर तीखे बने रहने की संभावना है। इसके बाद मौसम के मिजाज में एक बार फिर बदलाव होगा और ठंड से कुछ राहत मिलेगी।

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश विधानसभा कर्मचारियों के नए आवास, प्रोटेम स्पीकर शर्मा ने किया भूमिपूजन

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने बताया कि एक पश्चिमी विक्षोभ वर्तमान में ईरान पर है। इसके तीन दिसंबर के आसपास उत्तर भारत में पहुंचने की संभावना है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके भी दो-तीन दिसंबर को चक्रवाती तूफान में परिवर्तित होकर तमिलनाडु के तट पर पहुंचने की संभावना है। इन दो सिस्टम के कारण हवाओं के रुख में बदलाव होगा। वातावरण में नमी बढ़ेगी। इससे न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होने की संभावना है। इन सिस्टम के कमजोर पड़ने के बाद फिर ठंड की वापसी होगी।

इसे भी पढ़ें: कार्यकर्ता प्रशिक्षण वर्ग के शुभारंभ में बोले वीडी शर्मा एक विचार से शुरू हुई भाजपा की यात्रा

मौसम विभाग द्वारा भोपाल, इंदौर सहित प्रदेश में ठंड का दीर्घकालिक पूर्वानुमान जारी किया गया। अगले चार महीने पश्चिमी मध्य प्रदेश के इंदौर, उज्जैन, भोपाल, ग्वालियर-चंबल संभाग व होशंगाबाद जिले में रात का औसत तापमान सामान्य से एक से डेढ़ डिग्री कम रहेगा। दिन का तापमान सामान्य के आसपास रहेगा। ऐसे में इंदौर में रात में ठंडक ज्यादा बढ़ने की संभावना है। 

इसे भी पढ़ें: पं. नेहरू ने देश को खंडित करने वाली नीतियां बनाईं- शिवराज सिंह चौहान

वही पूर्वी मध्य प्रदेश में रात के तापमान में सामान्य से डेढ़ से दो डिग्री की गिरावट होगी। अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक रहेगा। इंदौर सहित पश्चिमी मध्य प्रदेश में इस बार पश्चिमी विक्षोभ ज्यादा प्रभावित करेगा। ऐसे में इन इलाकों में जनवरी व फरवरी में ओलावृष्टि की गतिविधियां तीन से चार बार हो सकती हैं। पूर्वानुमान के अनुसार प्रशांत महासागर में ला नीना का प्रभाव मध्यम रूप से बना रहेगा। इसके असर से पश्चिमी विक्षोभ ज्यादा आएंगे और तापमान में उतार-चढ़ाव भी देखने को मिलेगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


पीएम मोदी ने कहा- देश के साथ साथ दुनिया के लिये भी उत्पाद तैयार करें उद्योग

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 5, 2021   13:05
  • Like
पीएम मोदी ने कहा- देश के साथ साथ दुनिया के लिये भी उत्पाद तैयार करें उद्योग

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को घ्ररेलू स्तर पर वाहनों, दूरसंचार उपकरणों और दवा उद्योग को बढ़ावा देने के लिये उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना का जिक्र करते हुये उद्योगों से कहा कि वह देश की जरूरतों को पूरा करने के साथ साथ दुनिया के लिये भी सामान तैयार करें।

नयी दिल्ली।  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को घ्ररेलू स्तर पर वाहनों, दूरसंचार उपकरणों और दवा उद्योग को बढ़ावा देने के लिये उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना का जिक्र करते हुये उद्योगों से कहा कि वह देश की जरूरतों को पूरा करने के साथ साथ दुनिया के लिये भी सामान तैयार करें। मोदी ने अगले साल के बजट में पीएलआई योजना को लेकर किये गये प्रावधानों पर आयोजित एक वेबिनार को संबोधित करते हुये कहा कि इसके लिये करीब दो लाख करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। यह योजना दूरसंचार क्षेत्र से लेकर वाहन और औषधि क्षेत्र के साथ ही कपड़ा और खाद्य प्रसंस्करण सहित 13 क्षेत्रों के लिये शुरू की जा रही है।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र के भिवंडी में आग लगने से ‘पावरलूम फैक्ट्री’ जलकर खाक

उन्होंने कहा कि सरकार घरेलू स्तर पर उत्पादों के विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिये कई कदम उठा रही है। उद्योगों के अनुपालन बोझ को कम किया जा रहा है। ऐसे 6,000 के करीब अनुपालनों को कम करने के प्रयास किये जा रहे हैं। मोदी ने कहा कि खाद्य प्रसंस्करण उद्योग और कपड़ा क्षेत्र में पीएलआई योजना शुरू होने से समूचे कृषि क्षेत्र को फायदा होगा। उन्होंने उद्योगों से कहा कि वह उत्पादन में तेजी लायें और रोजगार के अवसर बढ़ायें। उन्होंने कहा कि उत्पादन लागत कम करने, वैश्विक स्तर की गुणवत्ता और प्रतिस्पर्धा में आगे बढ़ने के लिये सभी को मिलकर काम करना होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


महाराष्ट्र के भिवंडी में आग लगने से ‘पावरलूम फैक्ट्री’ जलकर खाक

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 5, 2021   12:58
  • Like
महाराष्ट्र के भिवंडी में आग लगने से ‘पावरलूम फैक्ट्री’ जलकर खाक

महाराष्ट्र के ठाणे जिले के भिवंडी में बृहस्पतिवार देर रात भीषण आग लगने से ‘पावरलूम फैक्टरी’ जलकर खाक हो गई। अधिकारी ने बताया कि हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ है।

ठाणे (महाराष्ट्र)। महाराष्ट्र के ठाणे जिले के भिवंडी में बृहस्पतिवार देर रात भीषण आग लगने से ‘पावरलूम फैक्टरी’ जलकर खाक हो गई। अधिकारी ने बताया कि हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ है। ठाणे नगर निगम के क्षेत्रीय आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ (आरडीएमसी) के प्रमुख संतोष कदम ने बताया कि नगांव रोड स्थित फैक्टरी में देर रात दो बजकर 20 मिनट पर आग लगी।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र में कोरोना की फिर बढ़ी रफ्तार, संक्रमण के 8,998 नए मामले

उन्होंने बताया कि भिवंडी निजामपुर शहर नगर निगम की दमकल गाड़ियां मौके पर पहुंची और करीब दो घंटे में आग पर काबू पाया गया। कदम ने बताया कि हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ, लेकिन ‘पावरलूम फैक्टरी’ पूरी तरह खाक हो गई। उन्होंने बताया कि आग लगने के कारणों के बारे में अभी पता नहीं चल पाया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


राजस्थान के CM अशोक गहलोत ने ली कोविड-19 टीके की पहली खुराक

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 5, 2021   12:19
  • Like
राजस्थान के CM अशोक गहलोत ने ली कोविड-19 टीके की पहली खुराक

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना वायरस रोधी टीके की पहली खुराक ली।देश में एक मार्च से आरंभ हुए टीकाकरण के दूसरे चरण में 60 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के लोग तथा विभिन्न रोगों से ग्रस्त 45-59 वर्ष आयुवर्ग के लोगों कोटीका लगाया जा रहा है।

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को यहां कोरोना वायरस प्रतिरक्षण टीके की पहली खुराक लगवाई। एक अधिकारी के अनुसार गहलोत ने सवाई मान सिंह अस्पताल में टीका लगवाया।इस अवसर पर चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा भी मौजूद थे।

इसे भी पढ़ें: ब्राजील के उपग्रह प्रक्षेपण के बाद अब भारत इटली के साथ कर रहा अवसरों की तलाश

देश में एक मार्च से आरंभ हुए टीकाकरण के दूसरे चरण में 60 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के लोग तथा विभिन्न रोगों से ग्रस्त 45-59 वर्ष आयुवर्ग के लोगों कोटीका लगाया जा रहा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept