चाइना डोर ने ली 17 वर्षीय युवती की जान, पुलिस कर रही है जांच

चाइना डोर ने ली 17 वर्षीय युवती की जान, पुलिस कर रही है जांच

उज्जैन के थाना माधव नगर क्षेत्र के जीरो पॉइंट ब्रिज पर मूल रूप से महिदपुर निवासी नेहा आंजना अपनी बहन के साथ एक्टिवा दुपहिया वाहन से फ्रीगंज जा रही थी। ब्रिज पर नेहा का गला चाइना डोर में फस गया। जिससे नेहा गंभीर रूप से घायल हो गई।

भोपाल। मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में पतंग बाजी में चायना डोर के शौकीन ने 17 वर्षीय युवती की जान लेली। इंदिरा नगर से फ्रीगंज जा रही युवती पाटीदार अस्पताल के पास जीरो पाईन्ट ब्रिज पर चाइना डोर में उलझ गई। जिसके बाद डोर से युवती का गला कट जाने से उसकी दर्दनाक मौत हो गई।

दरअसल उज्जैन के थाना माधव नगर क्षेत्र के जीरो पॉइंट ब्रिज पर मूल रूप से महिदपुर निवासी नेहा आंजना अपनी बहन के साथ एक्टिवा दुपहिया वाहन से फ्रीगंज जा रही थी। ब्रिज पर नेहा का गला चाइना डोर में फस गया। जिससे नेहा गंभीर रूप से घायल हो गई।

इसे भी पढ़ें:मेडिकल कॉलेज की कैंटीन में हुआ युवती के साथ दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

वहीं नेहा को अपनी कार में साथ लेकर अस्पताल पहुंचे देवेंद्र सिंह सेंगर ने कहा कि कई लोगो को हमने रोका मदद के लिए लेकिन कोई नहीं रुका। जिसके बाद मैंने और नेहा के साथ जो लड़की थी उसने उसको मेरी कार में डालकर अस्पताल पहुंचाया है। जहां उसकी मौत हो गई।

इधर नेहा की मौत की खबर के बाद घटना स्थल पर पहुंची पुलिस के सामने भी चाइना डोर ब्रिज पर दिखाई दी लेकिन पुलिस ने कई लोगो को उससे बचाया। हालांकि बीते कई दिनों से पुलिस चाइना डोर के खिलाफ अभियान चला रही है। और कई दुकानों पर छापे मारकर पुलिस ने डौर जब्त भी की है। इसके बावजूद भी कई लोग की नादानी के कारण अब एक होनहार युवती की जान डौर के कारन चली गयी। नेहा उज्जैन में रहकर पढ़ाई कर रही थी और वो ज्ञान सागर गर्ल्स स्कुल में 11वीं कक्षा की छात्रा थी।

इसे भी पढ़ें:महिला कांग्रेस ने जूते-चप्पल पहनकर किया हनुमान चालीसा का पाठ, बीजेपी ने जताई आपत्ति 

वहीं एडिशनल एसपी रविंद्र वर्मा ने कहा कि सीसीटीवी के आधार पर अज्ञात आरोपी की पहचान कर सख्त सजा दिलवाएंगे। और साथ ही एनएसए के तहत कार्यवाही कर जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार करेंगे। चाइना डोर बेंचने वालो के खिलाफ भी सख्त कार्यवाही की जायेगी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।