महिला कांग्रेस ने जूते-चप्पल पहनकर किया हनुमान चालीसा का पाठ, बीजेपी ने जताई आपत्ति

महिला कांग्रेस ने जूते-चप्पल पहनकर किया हनुमान चालीसा का पाठ, बीजेपी ने जताई आपत्ति

प्रदेश प्रवक्ता नेहा बग्गा ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है। उन्होंने लिखा है कि महिला कांग्रेस की बगुला भक्ति आज सामने आ गई है। चप्पल-जूते पहन कर जो हनुमान चालीसा का पाठ किया है। ये न केवल हिंदुओं का अपमान है अपितु सम्पूर्ण सनातन संस्कृति का घोर अपमान है।

भोपाल। मध्य प्रदेश में शुक्रवार को कांग्रेस ने ‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’ अभियान का आगाज किया था। भोपाल में महिला कांग्रेस ने पीसीसी कार्यालय में हनुमान चालीसा का पाठ कर अभियान की शुरुआत की गई।

लेकिन कांग्रेस का यह अभियान विवादों में आ गया है। बीजेपी ने महिला कांग्रेस की पदाधिकारियों पर चप्पल-जूते पहनकर हनुमान चालीसा पाठ करने का आरोप लगाया है।

इसे भी पढ़ें:शिवराज सरकार का अजीब आदेश, सुबह- दोपहर अभिभावक और छात्र बजाएंगे थाली 

दरअसल बीजेपी की प्रदेश प्रवक्ता नेहा बग्गा ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है। उन्होंने लिखा है कि महिला कांग्रेस की बगुला भक्ति आज सामने आ गई है। चप्पल-जूते पहन कर जो हनुमान चालीसा का पाठ किया है। ये न केवल हिंदुओं का अपमान है अपितु सम्पूर्ण सनातन संस्कृति का घोर अपमान है।

उन्होंने आगे ट्वीट करते हुए लिखा कि मुझे दुख है कि कांग्रेस का स्तर इतना गिर गया कि सत्ता के लोभ में कांग्रेस नेता लगातार हिंदुओं का अपमान कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें:MP में कोरोना का महाविस्फोट, बीते 24 घंटे में मिले 5 हजार से ज्यादा मरीज

वहीं संस्कृति बचाओ मंच ने भी इस पर आपत्ति दर्ज कराई है और पीसीसी चीफ से जूते पहनकर हनुमान चालीसा पढ़ने वालों पर कार्रवाही की मांग की है। मंच संयोजक चंद्रशेखर तिवारी ने कहा कि हमने पूर्व सीएम और पीसीसी चीफ कमलनाथ से मांग की है कि जूते पहनकर हनुमान चालीसा का पाठ करने वालों को पार्टी से निकालें। धर्म का अपमान सहन नहीं किया जाएगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।