• फिर भारतीय सीमा में चीन ने की घुसपैठ की कोशिश ! दलाई लामा के जन्मदिन पर दिखाए बैनर और झंडे

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चीनी सेना के जवानों ने कुछ नागरिकों के साथ मिलकर वास्तविक नियंत्रण रेखा के करीब सिंघु नदी के पार से झंडे और बैनर दिखाए।

लद्दाख। भारत में एक बार फिर से चीनी सेना द्वारा की गई घुसपैठ की जानकारी सामने आई है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक 6 जुलाई को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के जवानों ने घुसपैठ की थी। दरअसल, चीनी सेना के जवानों ने लेह के डेमचोक में तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा के जन्मदिन पर आयोजित कार्यक्रम का विरोध करने पहुंचे। 

इसे भी पढ़ें: दलाई लामा को लेकर तिब्बतियों में चिंता, चीन है मौके की तालाश में! 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चीनी सेना के जवानों ने कुछ नागरिकों के साथ मिलकर वास्तविक नियंत्रण रेखा के करीब सिंघु नदी के पार से झंडे और बैनर दिखाए। स्थानीय लोगों ने बताया कि चीनी सेना ने यह हिमाकत भारतीय जमीन पर खड़े होकर की है। रिपोर्ट्स के मुताबिक आधे घंटें तक चीनी सेना के जवान हाथों में बैनर और झंडे लेकर खड़े रहे।

स्थानीय नागरिकों के मुताबिक चीनी जवानों ने लाल रंग के बड़े से बैनर लिए हुए थे। जिसमें चीनी भाषा में कुछ लिखा हुआ था। उन्होंने बताया कि डेमचोक इलाके में हमारा आखिरी गांव है। ऐसे में यहां पर पहले भी चीनी जवान कार्यक्रमों में खलल डालने का प्रयास कर चुके हैं।

चीन के साथ जारी है तनातनी

वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) को लेकर भारत और चीन के बीच में तनातनी चल रही है। हालांकि पुरानी स्थिति को बहाल करने के उद्देश्य से दोनों देशों के बीच में कई दौर की सैन्य वार्ता हो चुकी है। आपको बता दें कि चीनी सेना ने 15-16 जून को जबरदस्ती भारतीय सीमा में प्रवेश करने की कोशिश की थी। इस दौरान भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए थे। इस घटना के बाद तनातनी और भी ज्यादा बढ़ गई थी। 

इसे भी पढ़ें: LAC को लेकर ड्रैगन की नई चाल का हुआ खुलासा ! तैनाती के लिए तिब्बतियों को दे रहा है ट्रेनिंग 

PM मोदी ने दलाई लामा को दी थी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तिब्बती आध्यात्मिक नेता दलाई लामा को फोन कर जन्मदिन की बधाई दी और उनकी दीर्घायु की कामना की। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘86वें जन्मदिन पर मैंने दलाई लामा से फोन पर बात की और उन्हें शुभकामनाएं दीं। हम उनके लंबे व स्वस्थ जीवन की कामना करते हैं।’’