CJI यौन उत्पीड़न आरोप मामला: पीड़ित महिला ने जांच पैनल की संरचना पर आपत्ति जताई

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 25 2019 9:18AM
CJI यौन उत्पीड़न आरोप मामला: पीड़ित महिला ने जांच पैनल की संरचना पर आपत्ति जताई
Image Source: Google

महिला ने जांच पैनल में न्यायमूर्ति एन. वी. रमण की मौजूदगी पर इस आधार पर आपत्ति जाहिर की है कि वह प्रधान न्यायाधीश के करीबी मित्र हैं और उनके घर पर उनका बराबर आना-जाना होता है।

नयी दिल्ली। प्रधान न्यायधीश रंजन गोगोई पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली उच्चतम न्यायालय की पूर्व महिला कर्मचारी ने मामले की आंतरिक जांच के लिये गठित पैनल की संरचना पर बुधवार को आपत्ति जताई। उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति एस. ए. बोबडे की अध्यक्षता वाले पैनल को पत्र लिखकर महिला ने अपनी आपत्ति जतायी है।

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: CJI यौन उत्पीड़न मामला: जस्टिस एसए बोबडे करेंगे आरोपों की जांच

महिला ने जांच पैनल में न्यायमूर्ति एन. वी. रमण की मौजूदगी पर इस आधार पर आपत्ति जाहिर की है कि वह प्रधान न्यायाधीश के करीबी मित्र हैं और उनके घर पर उनका बराबर आना-जाना होता है।

इसे भी पढ़ें: वकील ने सुप्रीम कोर्ट से कहा, CJI से इस्तीफा दिलाने की साजिश है



एक आधिकारिक सूत्र ने इस बात की पुष्टि की कि पूर्व कर्मचारी ने पैनल में सिर्फ एक महिला न्यायाधीश न्यायमूर्ति इंदिरा बनर्जी की मौजूदगी को लेकर भी सवाल उठाया है। पैनल के समक्ष पेश होने के लिए उसे शुक्रवार को नोटिस जारी किया गया था। प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ महिला के आरोपों की जांच के लिये विशाखा दिशानिर्देश के तहत इस पैनल का गठन किया गया है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Video