सहारनपुर में छेड़खानी को लेकर दो समुदाय के लोगों में झड़प, दो घायल

Clashes
Pixabay free license
जिले के देवबंद थाना क्षेत्र में युवती से कथित छेड़खानी की घटना के बाद दो समुदायों के लोगों के बीच झड़प में दो व्यक्ति घायल हो गए। एक हिंदू संगठन की शिकायत पर पांच लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है, जिसमें से चार लोगों को हिरासत में ले लिया गया है।

सहारनपुर (उप्र)। जिले के देवबंद थाना क्षेत्र में युवती से कथित छेड़खानी की घटना के बाद दो समुदायों के लोगों के बीच झड़प में दो व्यक्ति घायल हो गए। एक हिंदू संगठन की शिकायत पर पांच लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है, जिसमें से चार लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। पुलिस ने बताया कि बृहस्पतिवार की रात एक युवक ने युवती से कथित तौर पर छेड़छाड़ की जिसके बाद बाजार के लोग महिला के समर्थन में उतर आए। इस बीच युवक ने एक व्यापारी पर छड़ से हमला कर दिया।

इसे भी पढ़ें: ज्ञानवापी मामले में SC ने दिए तीन सुझाव, कहा- जिला जज न्यायिक अधिकारी होते हैं, हम नहीं दे सकते निर्देश

पुलिस ने बताया कि कुछ ही देर में अलग-अलग समुदायों के लोग आमने-सामने आ गए और लाठियों से एक-दूसरे पर हमला कर दिया। इस दौरान दोनों पक्षों का एक-एक व्यक्ति घायल हो गया। इस घटना के विरोध में भाजपा नेता और हिंदू संगठनों से जुड़े लोग रात में ही धरने पर बैठ गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह दोनों पक्षों को शांत कराया। पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) सूरज राय ने बताया कि बीती रात एक युवती बाजार से लौट रही थी कि तभी एक शातिर युवक ने उसके साथ कथित रूप से छेड़छाड़ की।

इसे भी पढ़ें: रात के रेल सफर को बनाना है आरामदेह तो इन बातों का रखें ध्यान, नहीं होगी कोई परेशानी

इसके बाद कई दुकानदार युवती के समर्थन में आगे आ गये। राय ने बताया कि इसके बाद युवक ने एक व्यापारी पर हमला कर दिया, जिसके बाद दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने आ गए। राय ने बताया कि एक हिंदू संगठन की शिकायत पर पांच लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है, जिसमें से चार लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। उन्होंने बताया कि मामले की जांच जारी है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़