CM धामी ने अंकिता के माता-पिता से मुलाकात की, सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया

Ankita Bhandari parents
ANI
पुलिस को अंकिता के हत्यारोपियों - मुख्य आरोपी पुलकित आर्य, सौरभ भास्कर और अंकित गुप्ता - की तीन दिन की पुलिस रिमांड मिल गयी है, जिसके बाद मामले की जांच में तेजी आने की संभावना है। मुख्यमंत्री ने अंकिता के परिजनों को ढांढस बंधाया और उन्हें 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता की धनराशि भी सौंपी।
देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को पौड़ी जिले के डोभ श्रीकोट गांव पहुंचकर अंकिता भंडारी के माता-पिता से मुलाकात की तथा उन्हें भरोसा दिलाया कि उनकी बेटी के हत्यारों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी। इसी बीच, पुलिस को अंकिता के हत्यारोपियों - मुख्य आरोपी पुलकित आर्य, सौरभ भास्कर और अंकित गुप्ता - की तीन दिन की पुलिस रिमांड मिल गयी है, जिसके बाद मामले की जांच में तेजी आने की संभावना है। मुख्यमंत्री ने अंकिता के परिजनों को ढांढस बंधाया और उन्हें 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता की धनराशि भी सौंपी। 

इसे भी पढ़ें: फास्ट ट्रैक कोर्ट सुनवाई, पोस्टमॉर्टम की डिटेल परिवार को सौंपी जाएगी, CM धामी के आश्वासन के बाद अकंता भंडारी का हुआ अंतिम संस्कार

उन्होंने कहा कि अंकिता को न्याय दिलाने के लिए उनकी हमारी सरकार पूरी तरह से प्रतिबद्ध है और इसकी जांच पुलिस उप महानिरीक्षक पी.रेणुका देवी के नेतृत्व में गठित एक विशेष जांच दल (एसआईटी) कर रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हत्याकांड के तीनों आरोपियों को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है और जांच में जिन भी लोगों की भूमिका संदेह के दायरे में है, उन पर भी कानून सम्मत कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि त्वरित अदालत (फास्ट ट्रैक कोर्ट) में सुनवाई कराते हुए अंकिता के हत्यारों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी। इस दौरान, धामी के साथ उनके कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत, पौडी के जिलाधिकारी विजय कुमार जोगदंडे और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान भी मौजूद रहे। 

इसे भी पढ़ें: नारी-शक्ति की पूजा तभी सार्थक है जब महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों पर लगाम लगे

उधर, भाजपा प्रदेश मुख्यालय में अंकिता की याद में एक श्रद्धाजंलि सभा का आयोजन किया गया। श्रद्धांजलि सभा में अंकिता की तस्वीर पर पुष्प चढाने के बाद वक्ताओं ने सरकार से आग्रह किया कि दोषियों को ऐसा कडा दंड दिया जाए कि आने वाले दिनों में कोई इस तरह की घटनाओं के बारे में सोच भी न सके। पौड़ी जिले के वनंत्रा रिजॉर्ट में बतौर रिसेप्शिनिस्ट काम करने वाली 19 वर्षीय अंकिता की रिजॉर्ट संचालक आर्य ने अपने दो कर्मचारियों के साथ मिलकर ऋषिकेश के निकट चीला नहर में धकेल कर कथित रूप से हत्या कर दी थी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़